in

Note Ban के बाद India में 50 लाख लोगों ने गंवाई नौकरी, रिपोर्ट में हुआ खुलासा | वनइंड़िया हिंदी


Right News : तिरंगे की आन, मातृभूमि की मान

Note Ban के बाद India में 50 लाख लोगों ने गंवाई नौकरी, रिपोर्ट में हुआ खुलासा | वनइंड़िया हिंदी

After Note ban 50 lakhs peoples lost jobs in 2016 to 2018 says report . Fifty lakh men lost their jobs in the past two years beginning November 2016, when Prime Minister Narendra Modi announced an overnight ban on high value currency, according to a new report. The timing of the start of the decline in jobs coincides with demonetisation but no “causal link” can be established based on the available data, says the “State of Working India 2019”, released Tuesday by the Centre for Sustainable Employment, Azim Premji University, Bengaluru

नोटबंदी के बाद भारत में 50 लाख लोगों ने गंवाई नौकरी, रिपोर्ट में हुआ खुलासा | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर 2016 को लिए गए नोटबंदी के फैसले के बाद बीते दो सालों में 50 लाख लोगों की नौकरियां चली गई हैं. एक नई रिपोर्ट के अनुसार, खासकर असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले 50 लाख लोगों ने नोटबंदी के बाद अपना रोजगार खो दिया है. बेंगलुरु स्थित अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी के सेंटर ऑफ सस्टेनेबल एम्प्लॉयमेंट (CSE) द्वारा मंगलवार को जारी ‘State of Working India 2019′ रिपोर्ट में यह कहा गया है कि साल 2016 से 2018 के बीच करीब 50 लाख पुरुषों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है.
#NoteBan #Notebandi #Demonitisation #Modi #BJP
————————————————————————————————————–
Subscribe to OneIndia Hindi Channel for latest updates on movies and related videos.

You Tube:

Follow us on Twitter :

Like us on Facebook :

Join our circle in Google Plus :

Download App:

Oneindia Hindi | वनइंडिया हिन्दी

After Note ban 50 lakhs peoples lost jobs in 2016 to 2018 says report . Fifty lakh men lost their jobs in the past two years beginning November 2016, when Prime Minister Narendra Modi announced an overnight ban on high value currency, according to a new report. The timing of the start of the decline in jobs coincides with demonetisation but no “causal link” can be established based on the available data, says the “State of Working India 2019”, released Tuesday by the Centre for Sustainable Employment, Azim Premji University, Bengaluru

नोटबंदी के बाद भारत में 50 लाख लोगों ने गंवाई नौकरी, रिपोर्ट में हुआ खुलासा | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर 2016 को लिए गए नोटबंदी के फैसले के बाद बीते दो सालों में 50 लाख लोगों की नौकरियां चली गई हैं. एक नई रिपोर्ट के अनुसार, खासकर असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले 50 लाख लोगों ने नोटबंदी के बाद अपना रोजगार खो दिया है. बेंगलुरु स्थित अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी के सेंटर ऑफ सस्टेनेबल एम्प्लॉयमेंट (CSE) द्वारा मंगलवार को जारी ‘State of Working India 2019′ रिपोर्ट में यह कहा गया है कि साल 2016 से 2018 के बीच करीब 50 लाख पुरुषों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है.
#NoteBan #Notebandi #Demonitisation #Modi #BJP
————————————————————————————————————–
Subscribe to OneIndia Hindi Channel for latest updates on movies and related videos.

You Tube:

Follow us on Twitter :

Like us on Facebook :

Join our circle in Google Plus :

Download App:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading…

0

Comments

चीन और पाकिस्तान को सीधा संदेश | RightNews.in

BJP' Giriraj Singh Takes On Congress Over Muslim Vote Appeal

BJP’ Giriraj Singh Takes On Congress Over Muslim Vote Appeal