Home मुख्य समाचार लखनऊः सीएम योगी से मिले भाकियू नेता, आश्वासन के बाद भी कल...

लखनऊः सीएम योगी से मिले भाकियू नेता, आश्वासन के बाद भी कल चक्का जाम

[

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ

Updated Thu, 24 Sep 2020 12:45 AM IST

किसान नेताओं संग बैठक करते मुख्यमंत्री योगी।
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी राकेश टिकैत ने मीडिया से कहा कि भाकियू केंद्र सरकार द्वारा कृषि पर पारित किए गए काले कानूनों के खिलाफ देश भर में 25 सितंबर को चक्का जाम करेगा और समर्थन मूल्य व खरीद की गारंटी कानून बनने तक आन्दोलन जारी रहेगा।

बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रीय अध्यक्ष टिकैत के नेतृत्व में किसानों की समस्याओं पर पांच कालिदास मार्ग स्थित सीएम आवास पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की और किसानों की समस्याएं सामने रखी। बैठक के बाद टिकैत ने बताया कि हमें भरोसा दिलाया गया है कि जमीन अधिग्रहण होने पर किसानों की फसलें नहीं बर्बाद होंगी।

बैठक में प्रतिनिधिमंडल ने गन्ना भुगतान, गन्ने का मूल्य बढ़ाये जाने, शुगर केन एक्ट धारा (17) 3 को समाप्त किये जाने, प्रदेश में भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के अनुसार किसानों को मुआवजा न दिये जाने व बिना मुआवजा दिये किसानों की तैयार फसलों को नष्ट किये जाने  के सम्बन्ध में चर्चा की। जिस पर मुख्यमंत्री जी ने आश्वासन दिया कि नये सत्र की शुरूआत से पहले किसानों का गन्ना भुगतान कराया जायेगा। परियोजनाओं के निर्माण में अधिग्रहीत जमीन पर कब्जा लेने के लिए फसल काटने हेतु किसानों को पर्याप्त समय दिया जायेगा।

बैठक में फसलों की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हो इसके लिये आवश्यक कदम उठाने, बिजली की दरों में वृद्धि न किये जाने पर भी चर्चा हुई। जिस पर मुख्यमंत्री ने किसानों की सभी समस्याओं का समाधान किए जाने का भरोसा दिलाया।

प्रतिनिधिमंडल में चौधरी राकेश टिकैत राष्ट्रीय प्रवक्ता, राजेश सिंह चौहान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, मैनपाल सिंह चौहान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, हरिनाम सिंह वर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष, सरदार अजीत सिंह मंडल अध्यक्ष बरेली मौजूद रहे।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी राकेश टिकैत ने मीडिया से कहा कि भाकियू केंद्र सरकार द्वारा कृषि पर पारित किए गए काले कानूनों के खिलाफ देश भर में 25 सितंबर को चक्का जाम करेगा और समर्थन मूल्य व खरीद की गारंटी कानून बनने तक आन्दोलन जारी रहेगा।

बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रीय अध्यक्ष टिकैत के नेतृत्व में किसानों की समस्याओं पर पांच कालिदास मार्ग स्थित सीएम आवास पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की और किसानों की समस्याएं सामने रखी। बैठक के बाद टिकैत ने बताया कि हमें भरोसा दिलाया गया है कि जमीन अधिग्रहण होने पर किसानों की फसलें नहीं बर्बाद होंगी।

बैठक में प्रतिनिधिमंडल ने गन्ना भुगतान, गन्ने का मूल्य बढ़ाये जाने, शुगर केन एक्ट धारा (17) 3 को समाप्त किये जाने, प्रदेश में भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के अनुसार किसानों को मुआवजा न दिये जाने व बिना मुआवजा दिये किसानों की तैयार फसलों को नष्ट किये जाने  के सम्बन्ध में चर्चा की। जिस पर मुख्यमंत्री जी ने आश्वासन दिया कि नये सत्र की शुरूआत से पहले किसानों का गन्ना भुगतान कराया जायेगा। परियोजनाओं के निर्माण में अधिग्रहीत जमीन पर कब्जा लेने के लिए फसल काटने हेतु किसानों को पर्याप्त समय दिया जायेगा।

बैठक में फसलों की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हो इसके लिये आवश्यक कदम उठाने, बिजली की दरों में वृद्धि न किये जाने पर भी चर्चा हुई। जिस पर मुख्यमंत्री ने किसानों की सभी समस्याओं का समाधान किए जाने का भरोसा दिलाया।

प्रतिनिधिमंडल में चौधरी राकेश टिकैत राष्ट्रीय प्रवक्ता, राजेश सिंह चौहान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, मैनपाल सिंह चौहान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, हरिनाम सिंह वर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष, सरदार अजीत सिंह मंडल अध्यक्ष बरेली मौजूद रहे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

सोमवार दोपहर 11 बजे फेयरमॉन्ट होटल में विधायकों के साथ CM गहलोत की बैठक

[ Rajasthan Government Crisis Latest News Live Updates: राजस्थान में राजनीतिक अस्थिरता लगातार बढ़ रही है। इस बीच बहुजन समाज पार्टी ने रविवार को एक...

राजस्थान फोन टेपिंग मामले में आया नया मोड़, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

धोखा देने में माहिर लेकिन भीतर से खोखली होती जा रही चीन की पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी

[चीन की वो तीन दुखती रग जिन्हें दबा सकता है भारतनई दिल्‍ली कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ चाइना (CPC) के झंडे तले चीन ने धोखा देने...

अनलॉक 4 गाइडलाइंस: मेट्रो ट्रेन, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों की सशर्त इजाजत

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

पूर्वी लद्दाख में LAC पर हथियारों के साथ चीनी सैनिकों की मौजूदगी बहुत गंभीर सुरक्षा चुनौती: जयशंकर

[ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को कहा कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर बड़ी संख्या में हथियारों से...