Home मुख्य समाचार थल से नभ तक....पूर्वी लद्दाख में चीन से आर-पार की जंग के...

थल से नभ तक….पूर्वी लद्दाख में चीन से आर-पार की जंग के लिए तैयार है भारतीय सेना

[

हाइलाइट्स:

  • लद्दाख में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हुई भारतीय सेना
  • ठंड के समय में लद्दाख में किसी सामरिक स्थिति में काम करने के लिए हर सामान का इंतजाम
  • लद्दाख में सेना ने भेजवाए स्पेशल टेंट, आर्टिलरी और अन्य साजो सामान, पुख्ता तैयारियां
  • भारतीय सेना के अलावा लद्दाख में हवाई जवाब देने के लिए देश के तमाम एयरबेस भी तैयार

श्रीनगर
पूर्वी लद्दाख में चीन से तनातनी के हालातों के बीच भारतीय सेना (Indian Army In Ladakh) ने बुधवार को एक बड़ा बयान देते हुए चीन को स्पष्ट संदेश देने की कोशिश की है। चीनी मीडिया में भारतीय सेना की अधूरी तैयारियों के दावे वाली खबरों के चलने के बाद भारतीय सेना (India China Stand Off) ने कहा है कि वह किसी भी स्थिति में सामरिक हालात से निपटने में पूरी तरह से तैयार है। बुधवार को अपने एक बयान में भारतीय सेना (Indian Army) ने कहा कि सर्दी के मौसम में अगर जंग के हालात बन जाते हैं, तो चीन का सामना भारत (LADAKH) की एक ऐसी सेना से होगा जो कि सक्षम और सशक्त रूप में उनके सामने खड़ी होगी।

भारतीय सेना ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि चीन जिस सेना के बल पर प्रोपोगैंडा फैला रहा है, उसके जवानों को फील्ड और ऊंचे इलाकों में जंग का कोई अनुभव नहीं है। ये लोग शहरी इलाकों से आते हैं और इन्हें जमीनी हालात का कोई अंदाजा नहीं। बुधवार को बयान में सेना की उत्तरी कमान के प्रवक्ता ने कहा कि अगर सर्दी के मौसम में पूर्वी लद्दाख में जंग जैसे हालात बन भी जाते हैं, तो भारतीय सेना इसके लिए पूरी तरह से तैयार और सक्षम दिखेगी। प्रवक्ता ने कहा, ‘भारत एक शांतिप्रिय देश है और हम चाहते हैं कि पड़ोसियों से हमारे रिश्ते हमेशा ही बेहतर रहें। हम हमेशा बातचीत के जरिए मसलों को हल करना चाहते हैं। ऐसे वक्त में जब भारत और चीन के मध्य कूटनीतिक स्तरों पर बातचीत हो रही है, उस वक्त में भी हम सैन्य मोर्चे पर पूरी तरह से तैयार हैं।

चीन को LAC पर मिलेगा मुंहतोड़ जवाब, भारतीय सेना ने गर्म कपड़ों से लेकर राशन तक का किया बंदोबस्त

हर स्थिति के लिए शॉर्ट नोटिस पर भी तैयार
प्रवक्ता ने कहा कि लद्दाख रेंज के तमाम इलाके उच्चतम पर्वतीय क्षेत्रों में आते हैं। इस इलाके में नवंबर के महीने में भारी बर्फबारी होती है। इसके अलावा यहां न्यूनतम तापमान -30 से -40 डिग्री के आसपास पहुंच जाता है। ठंड की इन स्थितियों में कई बार लद्दाख को जोड़ने वाले तमाम रास्ते भी बंद हो जाते हैं। लेकिन इन सब स्थितियों के बावजूद ये जानना जरूरी है कि भारतीय सेना ऐसी स्थितियों से निपटने में पूरी तरह से सक्षम है। हमारे पास ऐसे इलाकों में ड्यूटी करने का एक लंबा अनुभव रहा है और हम एक शॉर्ट नोटिस पर भी किसी भी स्थिति में जाने के लिए पूरी तरह से तैयार रहते हैं।

2343552452

वायु सेना के स्पेशल विमानों से पहुंचे जवान

हमारे पास सियाचिन जैसे रणक्षेत्र का भी अनुभव
सैन्य प्रवक्ता ने कहा कि दुनिया को यह याद रखना चाहिए कि हमारे पास सियाचिन जैसे मुश्किल रणक्षेत्रों में जंग लड़ने का अनुभव है। चीन के ग्लोबल टाइम्स ने यह दावा किया था कि भारतीय सेना लद्दाख के हालातों में लॉजिस्टिक कैपेबिलिटी के हिसाब से कम तैयार है। ऐसे में यह स्पष्ट करना जरूरी है कि लद्दाख के तमाम इलाकों में पहले से ही सेना के लिए स्वास्थ्य, राशन, हथियार, कपड़ों, जरूरी उपकरणों समेत सभी जरूरी चीजों का पुख्ता इंतजाम किया जा चुका है। इसके अलावा मई में बिगड़े हालातों के बाद से ही इस इलाके में इन सभी चीजों की अतिरिक्त व्यवस्था पहले ही कर दी गई है।

लद्दाख जाने के लिए बनाया नया रास्ता
सेना ने कहा कि पूर्व में लद्दाख जाने के लिए दो रूट्स बनाए गए थे। इनमें एक रूट श्रीनगर-लेह हाइवे पर जोजिला पास का था। वहीं दूसरा रूट मनाली-लेह राजमार्ग पर रोहतांग पास होकर जाता था। अब हमनें धारचा के रास्ते लेह जाने का एक नया रास्ता बनाया है, जो कि पुराने दोनों रास्तों से छोटा है। इसके अलावा इसके बर्फबारी और लैंडस्लाइड्स के कारण बंद होने की संभावना भी काफी कम है। साथ-साथ रोहतांग पास के निकट बनी अटल टनल से भी लद्दाख के इलाकों में सेना की मूवमेंट कैपिसिटी काफी मजबूत हुई है।

ईधन के कई टैंकर पहले ही पहुंचे

ईधन के कई टैंकर पहले ही पहुंचे

ईंधन और बर्फ हटाने वाले साजो-सामान का प्रबंध
प्रवक्ता ने कहा कि लद्दाख में जवानों और सप्लाई की मूवमेंट्स के लिए हमारे पास सड़क मार्ग के साथ-साथ तमाम एयरबेस भी मौजूद हैं। इसके अलावा रास्तों के अवरुद्ध होने पर बर्फ हटाने के आधुनिक सामानों से लेकर अन्य जरूरी साजो-सामान को लद्दाख को जोड़ने वाले सभी रास्तों पर तैनात किया जा चुका है। लद्दाख में जवानों को सैन्य वाहनों, टैंक्स या किसी भी अन्य मशीनरी के संचालन के लिए ईंधन की कमी ना हो, इसके लिए इस इलाके में पर्याप्त मात्रा में ईंधन और स्पेशल ल्यूब्रिकेंट्स का इंतजाम भी कराया गया है।

हथियार और मेडिकल इक्विपमेंट्स की पर्याप्त सप्लाई
सेना ने अपने बयान में बताया कि लद्दाख के ऊंचे इलाकों में परिवहन के लिए पर्याप्त मात्रा में ईंधन के साथ, वाहनों के स्पेयर पार्ट्स भी मंगाए गए हैं। इसके अलावा यहां पर जवानों के लिए स्पेशल बैरक, टेंट्स और हीटर्स का इंतजाम किया गया है। इस इलाके में सेना ने आयुध की पर्याप्त आपूर्ति कराई है। इसके तहत यहां पर छोटे हथियारों से लेकर आर्टिलरी और मिसाइल सिस्टम तक सबकुछ तैनात करा दिया गया है। स्वास्थ्य की स्थितियों और युद्ध में किसी तरह से घायल हुए जवानों के लिए इलाज के लिए मेडिकल फसिलटी का पूरा प्रबंध भी किया गया है।

234345345

लद्दाख में मौजूद भारतीय सेना के जवान

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

राजधानी दिल्ली में 31 जुलाई तक बंद रहेंगे सभी स्कूल, ऑनलाइन चलती रहेंगी क्लासेस

[Delhi schools will remain closed till July 31: दिल्ली सरकार ने प्रदेश में स्कूलों को 31 जुलाई तक बंद करने का ऐलान किया...

भारत में पिछले 24 घंटे में सबसे ज़्यादा 90,802 COVID-19 केस, कोरोनावायरस से 1,016 की मौत, कुल केस 42 लाख के पार

[Coronavirus in India: भारत में तेजी से बढ़ रहे हैं COVID-19 के मामलेनई दिल्ली: Coronavirus in India: भारत में दिन प्रतिदिन कोरोना को...

आ गई सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट, जांच के लिए जेजे अस्पताल भेजे गए ऑर्गेन्स

[sushant singh rajput postmortem report: सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है, जिससे यह साफ हो गया है कि उनकी मौत...

सुशांत केस में बिहार vs महाराष्ट्र: जांच के लिए मुंबई गए पटना के आईपीएस अफसर को क्वारैंटाइन किया; नीतीश बोल… – Dainik Bhaskar

[Hindi NewsLocalMaharashtraIPS Vinay Tiwari, Who Arrived In Mumbai For Investigation, Was Quarantined By BMC, Bihar DGP Accused Of Coercionमुंबई8 मिनट पहलेकॉपी लिंकविनय तिवारी...

HPBOSE 10th Result 2020 Live Updates: बोर्ड ने दी जानकारी, 4.15 बजे होगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

; if (d.getElementById(id)) return; js = d.createElement(s); js.id = id; js.async=true; is_fb_sdk=true; js.src="https://connect.facebook.net/en_GB/sdk.js#xfbml=1&version=v3.2&appId=1652954484952398&autoLogAppEvents=1"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk')); } //comment...

लखीमपुर में 20 दिन में तीसरी वारदात, 3 साल की बच्ची का गन्ने के खेत में शव मिला

[हाइलाइट्स:लखीमपुर खीरी में अपराध चरम पर, यहां 20 दिन में नाबालिग की हत्या की तीसरी वारदातइस बार सिंहाई इलाके के गांव में 3...