Home मुख्य समाचार LAC पर तनाव के बीच रूस में मिले भारत और चीन के...

LAC पर तनाव के बीच रूस में मिले भारत और चीन के रक्षा मंत्री, तस्वीरें बयां कर रहीं बातचीत में क्या हुआ

[

हाइलाइट्स:

  • पूर्वी लद्दाख में जारी जबरदस्त तनाव के बीच रूस की राजधानी मॉस्को में मिले भारत और चीन के रक्षा मंत्री
  • राजनाथ सिंह-वेई फेंघे के बीच क्या बातचीत हुई, अभी डीटेल सामने नहीं आए लेकिन तस्वीरें बयां कर रही हैं बहुत कुछ
  • भारत की तरफ से जारी तस्वीरों से इशारा मिलता है कि भारत ने चीन से दो टूक कहा है कि एलएसी पर अपनी हरकतों से बाज आएं

नई दिल्ली
रूस की राजधानी मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक से इतर शुक्रवार को भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके चीनी समकक्ष वेई फेंघे ने मुलाकात की। यह मुलाकात ऐसे वक्त में हुई जब पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों के बीच पिछले 4 महीने से ज्यादा वक्त से जबरदस्त तनाव चल रहा है। इस मुलाकात के लिए चीन ने गुजारिश की थी। मौजूदा तनाव के बीच पहली बार इतने शीर्ष स्तर पर हुई इस मुलाकात में क्या-क्या और कैसी बातचीत हुई, इसका डीटेल आना बाकी है। लेकिन मुलाकात की तस्वीरें बहुत कुछ कह रही हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जिस अंदाज में दिख रहे हैं उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि उनके तेवर आक्रामक रहे होंगे।

भारत की तरफ से मुलाकात की जो तस्वीरें जारी की गई हैं, उनमें से एक में राजनाथ सिंह अपने चिर-परिचित अंदाज में उंगली बाहर निकालकर अपने चीनी समकक्ष से मुखातिब हैं। एक और तस्वीर में रक्षा मंत्री अपने दोनों हाथों को इस अंदाज में नीचे की तरफ करते दिख रहे हैं मानो वह कह रहे हों कि एक तरफ तो एलएसी पर हिमाकत करते हो, दूसरी तरफ बातचीत, आखिर इसका मतलब क्या है।

लद्दाख में पीछे हटेगी चीनी फौज? राजनाथ और चीनी रक्षा मंत्री की बैठक की पहली तस्वीर

तस्वीर में दोनों देशों के रक्षा मंत्री एक दूसरे की आंखों में आंखें डालकर बात करते दिख रहे हैं। चाइनीज और इंडियन डेलिगेशन के बाकी सदस्य हो रही बातचीत को नोट करते दिख रहे हैं।

Chinese-Delegation

दोनों नेताओं के बीच क्या बातचीत हुई, इस पर अभी आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी सामने नहीं आई है। लेकिन तस्वीरों में राजनाथ सिंह की जो भाव-भंगिमाएं दिख रही हैं, उससे जाहिर होता है कि भारत ने चीन से दो टूक अंदाज में कहा होगा कि वह एलएसी पर उकसावे वाली अपनी हरकतों से बाज आए। इसकी झलक एससीओ की बैठक में उनके संबोधन में भी दिखी जब उन्होंने चीनी विदेश मंत्री की मौजूदगी में कहा कि क्षेत्रीय स्थिरता और शांति के लिए आक्रामकता ठीक नहीं है। उनका यह चीन की तरफ स्पष्ट इशारा था।

LAC गतिरोध: सेना प्रमुख ने कहा, चीन सीमा पर गंभीर स्थिति

दूसरी तरफ, पूर्वी लद्दाख में जारी तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों के बीच सैन्य और कूटनीतिक बातचीत का सिलसिला चल रहा है लेकिन चीन उन बातों पर अमल से पीछे हट रहा है, जिन पर सहमतियां बन चुकी थीं। शुक्रवार को भी पूर्वी लद्दाख में दोनों के बीच ब्रिगेड कमांडर लेवल की एक और दौर की बातचीत हुई। सरकार के सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि चुशूल में एक सीमा चौकी पर सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच बातचीत हुई। बातचीत में क्या निकला, इस पर तत्काल कोई जानकारी नहीं मिली है।


इस हफ्ते की शुरुआत में दोनों सेनाओं के बीच ब्रिगेड कमांडर स्तर की बातचीत के तीन दौर बेनतीजा रहे। दोनों पक्षों ने ताजा टकराव के बाद पिछले कुछ दिन में चुशूल और अन्य कई क्षेत्रों में सैनिकों की तैनाती काफी बढ़ा दी है। पैंगोंग झील इलाके में उस वक्त तनाव बढ़ गया था जब चीन ने 5 दिन पहले झील के दक्षिणी तट में कुछ इलाकों पर कब्जा करने का असफल प्रयास किया। भारत ने पैंगोंग झील के दक्षिण तट के सामरिक महत्व वाले कई ऊंचे क्षेत्रों को अपने नियंत्रण में ले लिया है और भविष्य में चीन की किसी भी गतिविधि को नाकाम करने के लिए फिंगर 2 और फिंगर 3 क्षेत्रों में मौजूदगी को बढ़ाया है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

प्राइवेट ट्रेनों में फ्लाइट जैसी सुविधाएं! यह है Indian Railways का मुनाफा कमाने का प्लान

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

अनलॉक 4 गाइडलाइंस: मेट्रो ट्रेन, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों की सशर्त इजाजत

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

राजस्थान में सियासी उठापटक: गहलोत खेमे के 90 विधायक जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट; गहलोत बोले- अमित जी को क्या हो … – Dainik Bhaskar

[जयपुर2 घंटे पहलेफोटो जयपुर एयरपोर्ट का है। गहलोत खेमे के विधायक जैसलमेर रवाना होते हुए। कहा जा रहा है कि हॉर्स ट्रेडिंग की...

Rajasthan political crisis : जानिए गहलोत के लापता सात मंत्री और पांच विधायक कब पहुंचेंगे जैसलमेर

[राजस्थान के सियासी (Rajasthan crisis) घमासान में रोज नए सस्पेंस सामने आ रहे हैं। जहां विधायकों की बाड़ाबंदी को शिफ्ट (ashok gehlot rajasthan...

हाथरस घटना को लेकर दिल्ली में बड़ा प्रदर्शन: प्रियंका गांधी और केजरीवाल ने यूपी सरकार को घेरा

[ हाथरस में 19 वर्षीय दलित लड़की से कथित सामूहिक बलात्कार की घटना और इसके प्रति उत्तर प्रदेश सरकार के रवैये के खिलाफ...