Home मुख्य समाचार दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर दर्ज कराई एफआईआर

दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर दर्ज कराई एफआईआर

[

दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल (Sir Gangaram Hospital) पर एफआईआर दर्ज करा दी है। सरकार ने आरोप लगाया है कि वह लोगों को सुविधाएं नहीं दे रहा है और बेडों की कालाबाजारी कर रहा है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कोई अस्पताल अगर सरकार के निर्देशों को नहीं मानेगा तो उसपर बिना नोटिस कानूनी कार्रवाई होगी।

हाइलाइट्स

  • दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर एफआईआर दर्ज कराई है
  • आईपीसी की धारा 154 के तहत मामला दर्ज किया गया है
  • सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कोई भी अस्पताल अगर गड़बड़ी करेगा तो उसपर कार्रवाई की जाएगी
  • आरोप है कि राजधानी के अस्पताल कोविड संदिग्धोें को भर्ती नहीं कर रहे हैं

नई दिल्ली

राजधानी में कोरना मरीजों (Coronavirus) की संख्या बढ़ने के साथ अस्पतालों में बेडों को लेकर भी विवाद तूल पकड़ चुका है। दिल्ली के अस्पतालों में बेड्स की संख्या पर दिल्ली सरकार ने सफाई देते हुए कहा कि पर्याप्त बेड उपलब्ध हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने अस्पतालों पर विपक्षी दलों के साथ मिलकर बदमाशी करने का भी आरोप लगाया। अब दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर एफआईआर दर्ज करा दी है। यह FIR आईपीसी की धारा 154 के तहत दर्ज कराई गई है। आरोप है कि अस्पताल अपनी क्षमता के मुताबिक लोगों को सुविधाएं नहीं दे रहा है। उसपर भर्ती न करने और बेडों की कालाबाजारी का आरोप लगाया गया है।

अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि कोई भी अस्पताल अब किसी भी संदिग्ध केस को वापस न भेजे। उन्होंने आरोप लगाया था कि अस्पतालों की सेटिंग राजनीतिक दलों से है और वे दिल्ली सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा था कि दिल्ली में पर्याप्त टेस्ट नहीं किए जा रहा है। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग सेंटर्स पर दिल्ली सरकार बहुत कम सैंपल पहुंचा रही है। सीएम ने बचाव करते हुए कहा कि कई लैब गलती कर रही थीं।



प्राइवेट अस्‍पतालों को सीएम की वॉर्निंग


केजरीवाल ने लापरवाही बरत रहे प्राइवेट अस्‍पतालों (Delhi Hospitals) से कहा कि उन्‍हें मरीजों का इलाज तो करना ही होगा। चेतावनी भरे अंदाज में सीएम ने कहा, “उन अस्पतालों का कहना चाहता हूं कि आपको कोरोना के मरीजों का नियमों के हिसाब से इलाज करना ही होगा। कुछ दो-चार अस्पताल इस गलतफहमी में हैं कि वे ब्लैक मार्किंटिंग कर लेंगे, उन अस्पतालों को बख्शा नहीं जाएगा। कल से एक- एक अस्पताल के मालिक को बुला रहे हैं और पूछ रहे हैं कि कोरोना के मरीजों का इलाज तो करना ही होगा। 20 फीसदी बेड तो रखने ही होंगे, नहीं तो 100 फीसदी बेड कोरोना के लिए कर लेंगे।’

NBT

अब एसिम्प्टमेटिक मरीज 24 घंटे से ज्यादा अस्पताल में नहीं रहेंगे

दिल्ली सरकार ने आदेश दिया है कि एसेम्प्टमेटिक और माइल्ड सिम्प्टम वाले मरीजों को 24 घंटे के भीतर अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी और उन्हें होम आइसोलेशन में रखा जाएगा। AAP नेता राघव चड्ढा ने यह भी कहा कि हर निजी अस्पताल में सरकार का मेडिकल प्रफेशनल बैठाया जाएगा और सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई अस्पताल मरीज को वापस न भेजे।

Web Title delhi govt flied fir against sir gangaram hospital after bed controversy for covid patients(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

New Guideline For Unlock 1: शापिंग मॉल, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल व ऑफिस के लिए सरकार की नई गाइडलाइन जारी, जानें- क्या है नया नियम

[ नई दिल्ली, एएनआई। New Guideline For Unlock 1: लॉकडाउन के बाद अब देश धीरे-धीरे खुल रहा है। 8 जून से होटल, रेस्टोरेंट और धार्मिक...

देश में COVID-19 के कुल मामले 3.5 लाख पार, अब तक 11,903 मौत

[कोरोनावायरस से पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा 2003 मौतें (फाइल फोटो)नई दिल्ली: Coronavirus Cases in India: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर...

सेना प्रमुख ने लद्दाख में शहीद हुए जवानों को दी श्रद्धांजलि, बोले- खाली नहीं जाएगी शहादत

[India China face off: गलवान घाटी (Galwan Valley) में 15-16 जून की दरमियानी रात को हुई झड़प में भारत (India) के कमांडिंग अफसर...

कंगाल पाकिस्तान के पीएम के बड़े बोल, कहा-34 फीसदी भारतीय घरों में खाने को नहीं, हम करेंगे मदद

[ वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, इस्लामाबाद Updated Thu, 11 Jun 2020 05:57 PM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free मेंकहीं भी, कभी भी। 70 वर्षों से करोड़ों...

भारतीय सेना के साथ झड़प में मारे गए सैनिकों के परिवारों को शांत कराने की कोशिश में ड्रैगन

[चीन ने लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan valley) में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास भारतीय सैनिकों के साथ संघर्ष में मारे गए...

Amarnath Yatra 2020: 21 जुलाई से शुरू होगी वार्षिक अमरनाथ यात्रा, 55 वर्ष से कम उम्र वालों को ही मिलेगी अनुमति

[ Publish Date:Sat, 06 Jun 2020 04:55 PM (IST) श्रीनगर, जेएनएन। बाबा बर्फानी के भक्तों की इंतजार की घड़ी समाप्त हो गई है। उनके लिए...