Home मुख्य समाचार मथुरा में जन्माष्टमी: प्रकट हुए नंदलाल, नंद के आनंद भयो; पहली बार...

मथुरा में जन्माष्टमी: प्रकट हुए नंदलाल, नंद के आनंद भयो; पहली बार पंचगव्य के साथ यमुना और सरयू नदी के जल से… – Dainik Bhaskar

[

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The City Of Kanha Became Steeped In Devotion To Krishna; Radha And Krishna’s Aarti Performed At Sri Krishna’s Birthplace, Kanhai Will Be Born At 12.5 Pm

मथुराएक घंटा पहले

मथुरा के कृष्ण जन्मस्थान में पंचगव्य के बाद सरयू नदी के जल से भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक किया गया। यह जल श्रीकृष्ण जन्म स्थान न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास अयोध्या से लाए हैं।

  • कोरोना से मुक्ति की प्रार्थना 5100 दीपक जलाकर की गई
  • ब्रज के सभी मंदिरों में महामारी के कारण भक्तों के लिए पट बंद

मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान में रात 12 बजते ही भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ। जन्म होते ही ठाकुर जी का पंच गव्य से स्नान हुआ। बाल गोपाल को चांदी से बने कमल पुष्प में विराजमान किया गया। पंचगव्य के बाद श्रीकृष्ण का अभिषेक यमुना के साथ सरयू के जल से भी किया गया।

यह पहला मौका था जब जन्माष्टमी पर यहां भगवान श्रीकृष्ण का सरयू नदी के जल से भी अभिषेक हुआ। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और श्री कृष्ण जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास अपने साथ अयोध्या से सरयू नदी का जल लाए थे, जिससे भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक किया गया।

अभिषेक के बाद भगवान को रेशम, जरी एवं रत्न प्रतिकृति से बनी पुष्प वृंत पोशाक धारण पहनाई गई। अभिषेक के बाद शंख, ढोल नगाड़े और मृदंग की धुन पर भगवान की श्रंगार आरती की गई। श्रंगार आरती के बाद शयन आरती के साथ पूजन पूरा हुआ। कोरोना से मुक्ति पाने के लिए श्रीकृष्ण जन्मस्थान में 5100 दीप प्रज्ज्वलित गए। जन्मस्थान के भागवत भवन के गेट पर दीपों से स्वागतम् श्रीकृष्ण दर्शाया गया।

मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मस्थान के गीता मंदिर में भगवान का दूध से अभिषेक किया गया।

इस लिंक पर होंगे श्रीकृष्ण जन्मस्थान से जन्माष्टमी पूजा के लाइव दर्शन

मथुरा के श्री कृष्ण जन्मस्थान के गीता मंदिर को बिजली की झालरों से सजाया गया है। कोरोना के कहर के कारण यहां इस बार भक्तों को नहीं आने दिया गया है।

धर्म रक्षा संघ ने रंगोली सजाकर दीपदान किया
धर्म रक्षा संघ के तत्वावधान में भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के मौके पर ठाकुर बांके बिहारी मंदिर के मुख्य द्वार पर रंगोली सजाकर दीपदान किया। कार्यक्रम संयोजक मंदिर के सेवाधिकारी गोपेश गोस्वामी ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण की क्रीड़ा भूमि वृंदावन में आज सभी मंदिरों के अंदर श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव पूरे विधिविधान के साथ मनाया जा रहा है। यह बड़े कष्ट का विषय है कि इस जन्मोत्सव का आनंद कोरोना महामारी के कारण आम श्रद्धालु नहीं ले पा रहे हैं।

वृंदावन में बांकेबिहारी मंदिर के मुख्य द्वार पर लोगों ने बनाई आकर्षक रंगोली।

दीपक नृत्य भी हुआ

हर मंदिर में भगवान के प्राकट्य को लेकर उत्साह है। वृन्दावन के राधाकांत देव मंदिर में मंत्रोच्चारण के साथ अभिषेक शुरू हो गया है। यह रात्रि 12 बजे तक चलेगा। ब्रज का परम्परागत दीपक नृत्य भी चल रहा है। मान्यता है कि भगवान के जन्म की खबर सुन ब्रजवासी इतने खुश हुए कि उन्होंने दीपक हाथ में लेकर नृत्य किया।

मथुरा में श्रीकृष्ण के साथ राधा रानी की भी आरती हुई।

धर्म रक्षा संघ ने रंगोली सजाकर दीपदान किया धर्म रक्षा संघ के तत्वावधान में भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के मौके पर ठाकुर बांके बिहारी मंदिर के मुख्य द्वार पर रंगोली सजाकर दीपदान किया। कार्यक्रम संयोजक मंदिर के सेवाधिकारी गोपेश गोस्वामी ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण की क्रीड़ा भूमि वृंदावन में आज सभी मंदिरों के अंदर श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव पूरे विधिविधान के साथ मनाया जा रहा है। यह बड़े कष्ट का विषय है कि इस जन्मोत्सव का आनंद कोरोना महामारी के कारण आम श्रद्धालु नहीं ले पा रहे हैं।

वृंदावन के चंद्रोदय मंदिर में बुधवार को श्री कृष्ण जन्माष्टमी महामहोत्सव का मंगला आरती के साथ शुभारंभ हुआ।

वृंदावन के चंद्रोदय मंदिर में मनाई गई जन्माष्टमी
भक्ति वेदांत स्वामी मार्ग स्थित वृंदावन चंद्रोदय मंदिर में बुधवार को श्री कृष्ण जन्माष्टमी महामहोत्सव का आयोजन किया गया। सुबह मंगला आरती के साथ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का शंखनाद किया गया। इसके बाद भगवान श्रीश्री राधा वृन्दावन चंद्र की धूप आरती, नवीन पोषाक धारण, फूलबंगला, झूलन महोत्सव के साथ छप्पन भोग का आयोजन किया गया। सुबह से ही भक्तों द्वारा अखण्ड हरीनाम नाम संकीर्तन किया गया। जिसमें मंदिर के भक्तों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। भगवान का महाभिषेक वैदिक मंत्रोच्चारण, पंचगव्य दूध, दही, घी, शहद, मिश्री एवं विभिन्न प्रकार के फलों के रस, विभिन्न जड़ी बूटियों एवं फूलों से किया गया।

मथुरा में राधा रानी के मंदिर को फूलों से सजाया गया है। आज इनकी भव्य आरती की गई

श्रीकृष्ण की भक्ति में सराबोर ब्रजवासी। मंदिरों में इस बार पहले की तरह भीड़ नहीं दिखाई देर रही है।

मंदिर में राधा कृष्ण की प्रतिमा को दूध से नहलाते पुजारी।

राधाकृष्ण का दूध से अभिषेक हुआ

मथुरा के विभिन्न मंदिरों में जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण के साथ राधा रानी की भी पूजा की गई। मंदिरों में भगवान कृष्ण और राधा के विग्रह का दूध से अभिषेक कर विधिविधान से पूजा की गई।

मथुरा में जन्माष्टमी के मौके पर भजन कीर्तन करते कलाकार।

0

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

योग गुरु रामदेव ने कोरोनिल टैबलेट लॉन्च की, दावा- क्लीनिकल ट्रायल में 7 दिन में 100% मरीज ठीक हुए

[ 3 दिन में 69% मरीज ठीक होने और डेथ रेट 0% होने का दावा600 रुपए में 3 दवाओं की कोरोना किट 7 दिन...

पोखरण परीक्षण का श्रेय नरसिम्हा राव को- अटल जी ने खोला था यह राज

https://www.youtube.com/watch?v=y8PRpdDrx0whttps://www.youtube.com/watch?v=y8PRpdDrx0w @Tanraj58 ने लिखा- यही आज के और पुराने नेताओं में अंतर है। पुराने नेता अपनी पीठ थप थापा कर श्रेय नहीं लेते थे...

खुशखबरी : 73 दिनों में आ जाएगी भारत की पहली कोरोना वैक्सीन, देशवासियों को फ्री में लगेगा टीका

[हाइलाइट्स:कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई के बीच आई गुड न्यूजरिपोर्ट में दावा, 73 दिनों में आ जाएगी देश की पहली वैक्सीनसीरम इंस्टिट्यूट की...

हिन्दुस्तान एक्सक्लूसिव: दिल्ली-एनसीआर में लापता हुए 1589 कोरोना संक्रमितों ने मुसीबत बढ़ाई

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

कंगना Vs महाराष्‍ट्र सरकार: कंगना के ड्रग्‍स कनेक्‍शन की जांच करेगी मुंबई पुलिस

[कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद अब काफी आगे बढ़ गया है। कंगना के मुंबई ऑफिस में बीएमसी का नोटिस जाने...