Home मुख्य समाचार तबलीगी जमात में शामिल होने वाले 22 सौ विदेशी नागरिकों के भारत...

तबलीगी जमात में शामिल होने वाले 22 सौ विदेशी नागरिकों के भारत आने पर लगा 10 साल का बैन

[

तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) की गतिविधियों में शामिल होने के लिए टूरिस्ट वीजा (Tourist visa) पर आने वाले विदेशी नागरिकों (foreign nationals) पर भारत सरकार ने शिकंजा कस गया है। इन विदेशी नागरिकों के 10 साल तक भारत आने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

Edited By Sudhendra Singh | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

सांकेतिक तस्वीर
हाइलाइट्स

  • तबलीगी जमाम की गतिविधियों में शामिल होने वाले 2200 विदेशी नागरिकों पर सरकार का शिकंजा।
  • 10 साल तक भारत आने पर लगाया गया प्रतिबंध।
  • टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर तबलीगी जमाम की गतिविधियों में होते थे शामिल।
  • विदेशी नागरिकों पर वीजा नियमों का उल्लंघन करने का मामला।

नई दिल्ली

टूरिस्ट वीजा (Tourist visa) पर भारत आकर तबलीगी जमाम (Tablighi Jamaat) के धार्मिक जलसो में शामिल होने वाले 2200 विदेशी नागरिकों पर भारत सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इन विदेशियों पर अगले 10 साल के लिए प्रतिबंधित लगा दिया गया है। अब ये नागरिक अगले 10 साल तक भारत नहीं आ सकेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ये नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर तबलीगी जमात की गतिविधियों में शामिल हुए थे। इन नागरिकों को वीजा नियकों का उल्लंघन करने के लिए 10 साल के लिए प्रतिबंधित किया गया।

बताया जा रहा है कि 2200 से अधिक विदेशी तबलीगी जमात के सदस्य हैं, जिन्होंने भारत का दौरा किया और पूरे देश में तबलीगी गतिविधियों में पर्यटक वीजा पर भाग लिया। इन्हें 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट किया गया है। अनुमान लगाया जा रहा है कि संख्या और बढ़ सकती है।

इन देशों के हैं नागरिक

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ब्लैकलिस्ट किए गए 2200 विदेशियों में माली, नाइजीरिया, श्रीलंका, केन्या, जिबूती, तंजानिया, दक्षिण, अफ्रीका, म्यांमार, थाईलैंड, बांग्लादेश, यूके (OCI कार्ड धारक) ऑस्ट्रेलिया और नेपाल के नागरिक शामिल हैं। इनपर अगले 10 साल तक भारत में आने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

ऐसे खुली थी विदेशी नागरिकों की पोल

दरअसल कोरोना संकट के दौरान दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में एक मजहबी जलसे में शामिल होने के विदेशी नागरिक भी पहुंचे थे। इस जलसे में शामिल जब कुछ लोगों को कोरोना हुआ और कुछ की जान चली गई तो तबलीगी जमात के कार्यक्रम की जानकारी हुई। इसी के साथ जमात में शामिल होने के लिए विदेश से आने वाले नागरिकों की चालबाजी भी पकड़ी गई है। तबलीगी जमात से जुड़े लोगों की ट्रेसिंग के दौरान कुछ विदेशी नागिरक पकड़े गए। जब इनकी जांच की गई तो तमाम जमातियों के पास से टूरिस्ट वीजा बरामत हुआ। इससे पता चला कि विदेशी नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत आते हैं और यहां मजहबी गतिविधियों में हिस्सा लेते थे।

निजामुद्दीन का मामला सामने आने के बाद तबलीगी जमात के देश के बाकी मरकजों में भी विदेश से आए लोगों का पता चला था। तेलंगाना से लेकर यूपी-बिहार और झारखंड तक तमाम राज्यों में कई मस्जिदों से 700 से ऊपर विदेशी पकड़े गए थे। इनमें से ज्यादातर टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे। निजामुद्दीन मरकज में 216 विदेशियों के अलावा लखनऊ में 13, रांची के मस्जिदों में 30, पटना के मस्जिदों में 10 विदेशी पकड़े गए हैं। 1 जनवरी से इस साल मार्च तक भारत के तमाम हिस्सों में तबलीगी गतिविधियों में हिस्सा लेने के लिए करीब 2100 से ज्यादा विदेशी आए थे।

Web Title 960 blacklisted foreign nationals banned for 10 years from travelling to india(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

ENG Vs WI: वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 4 विकेट से दी मात, सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई

[ ENG Vs WI: कोरोना वायरस के खतरे के बीच 117 दिन बाद साउथहैंपटन में खेले गए इंटरनेशनल टेस्ट मैच में...

राजनाथ सिंह की चीन को दो टूक, एक इंच जमीन नहीं छोड़ेगा भारत

[ Publish Date:Sat, 05 Sep 2020 09:22 PM (IST) नई दिल्‍ली, जेएनएन। शुक्रवार को मास्को में भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों के बीच...

मेरा दामाद बेटी के साथ सेक्स में काफी कम दिलचस्पी लेता है, क्या यह सामान्य बात है?

सवाल: मैंने अपनी बेटी की शादी कुछ महीने पहले 30 साल के एक शख्स के साथ की है। मेरा दामाद बेटी के...

देवरिया: महिला के सामने हस्तमैथुन करने वाला थानेदार अरेस्ट, DIG ने किया बर्खास्त

[महिला फरियादी के साथ अश्लील हरकत करने वाले एसओ भीष्मपाल सिंह को पुलिस ने बस्ती से गिरफ्तार कर लिया है। थाने में हस्तमैथुन...