Home मुख्य समाचार PLI स्कीम में 22 कंपनियों की दिलचस्पी, 12 लाख लोगों को मिलेगा...

PLI स्कीम में 22 कंपनियों की दिलचस्पी, 12 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

[

  • 11 लाख करोड़ के मोबाइल हैंडसेट के मैन्युफैक्चरिंग का प्रस्ताव
  • इससे देश में करीब 12 लाख रोजगार अवसरों का सृजन होगा

केंद्र सरकार ने 41,000 करोड़ रुपये की उत्पादन से सम्बद्ध प्रोत्साहन योजना (PLI) की शुरुआत की थी. इस योजना के तहत अब तक 22 डोमेस्टिक और इंटरनेशनल कंपनियों ने दिलचस्पी दिखाई है. इन कंपनियों ने देश में पांच साल में 11 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन हैंडसेट के मैन्युफैक्चरिंग के प्रस्ताव पेश किए हैं. केंद्रीय दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को यह जानकारी दी.

क्या कहा रविशंकर प्रसाद ने?

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि इससे देश में करीब 12 लाख रोजगार अवसरों का सृजन होगा. इनमें 3 लाख प्रत्यक्ष, 9 लाख अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर होंगे. प्रसाद ने कहा, ‘‘इनमें करीब 11 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल विनिर्माण करने, करीब सात लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन का निर्यात करने के प्रस्ताव हैं. मैं आवेदन करने वाली कंपनियों का निजी तौर पर शुक्रिया अदा करता हूं.’’

विदेशी कंपनियां भी शामिल

उन्होंने कहा कि PLI के तहत कुल 22 कंपनियों ने आवेदन किया है. इसमें ताइवान, दक्षिण कोरिया, जर्मनी और ऑस्ट्रिया की कंपनियां शामिल हैं. प्रसाद ने कहा कि इस योजना के तहत प्रस्ताव जमा कराने वाली विदेशी कंपनियों में सैमसंग, फॉक्सकॉन होन हेई, राइजिंग स्टार, विस्ट्रॉन और पेगाट्रॉन शामिल हैं. बता दें कि फॉक्सकॉन होन हेई, विस्ट्रॉन, पेगाट्रॉन अनुबंध पर एप्पल आईफोन का मैन्युफैक्चरिंग करती हैं.

वहीं PLI योजना का लाभ लेने के लिए इन विदेशी कंपनियों के लिए 15,000 रुपये या उससे अधिक मूल्य के मोबाइल फोन मैन्युफैक्चरिंग की शर्त रखी गयी थी. भारतीय मोबाइल फोन मैन्युफैक्चरर कंपनियों के लिए ऐसी कोई शर्त नहीं है.

एप्पल की हिस्सेदारी 37 प्रतिशत

मोबाइल फोन की वैश्विक बिक्री में एप्पल की हिस्सेदारी 37 प्रतिशत और सैमसंग की 22 प्रतिशत है. PLI योजना से देश में मोबाइल फोन का मैन्युफैक्चरिंग कई गुना बढ़ने की उम्मीद है. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आवेदन स्वीकार होने के बाद ये कंपनियां भारत में कई हजार करोड़ रुपये का निवेश करेंगी.

ये पढ़ें—सरकार की रडार में PFI, रविशंकर बोले- CAA हिंसा मामले में गृह मंत्रालय लेगा एक्शन

उन्होंने कहा कि लावा, डिक्सन टेक्नोलॉजीस, भगवती (माइक्रोमैक्स), पैजेट इलेक्ट्रॉनिक्स, सोजो मैन्युफक्चरिंग सर्विसेस और ऑप्टिमस इलेक्ट्रॉनिक्स जैसी भारतीय कंपनियों ने भी PLI के तहत आवेदन किया है.

चीन की कंपनियां नहीं

इस योजना के तहत किसी भी चीनी कंपनी ने आवेदन नहीं किया है. रविशंकर प्रसाद ने स्पष्ट किया कि भारत किसी भी देश की कंपनियों के निवेश का विरोध नहीं करता है. लेकिन कंपनियों को अनुमति पाने के लिए सुरक्षा नियमों का पालन करना होगा. सरकार को इससे एक लाख करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android IOS

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

भारत-चीन सीमा पर दिखी सैन्य ताकत, सुखोई और मिग लड़ाकू विमानों ने भरी उड़ान

[ न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 04 Jul 2020 08:30 PM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just...

संयुक्त राष्ट्र की बैठक में भारत ने पाकिस्तान को फिर किया बेनकाब, लादेन को शहीद बताने के लिए इमरान खान की आलोचना

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

Coronavirus India Update: कोरोना के नए मामलों में भारत ने अमेरिका को छोड़ा पीछे, लगातार दूसरे दिन सबसे ज्यादा केस

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

कोरोना मरीजों के लिए यूपी सरकार ने जारी की होम आइसोलेशन की गाइडलाइंस, ये होंगे नियम

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

चीन से बातचीत के साथ सैन्‍य कार्रवाई के विकल्‍प पर विचार कर रहा भारत

[Edited By Shailesh Shukla | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 29 Jun 2020, 06:35:00 AM IST भारत-चीन तनाव: भारतीय वायुसेना ने ऊंचाई से...

कोरोना की वैक्सीन जल्द मिल भी गई तब भी भारत में टीकाकरण में कम से कम 2 साल लगेंगे: विशेषज्ञ

[Corona Vaccine News: कोरोना के वैक्सीन पर दुनियाभर में तेजी से काम चल रहा है। हालांकि, अगर इस साल वैक्सीन बन भी गई...