Home मुख्य समाचार सचिन पायलट कैम्प की अर्ज़ी पर केंद्र को पार्टी बनाने पर सहमत...

सचिन पायलट कैम्प की अर्ज़ी पर केंद्र को पार्टी बनाने पर सहमत हुआ राजस्थान हाईकोर्ट

[

सचिन पायलट (Sachin Pilot) – फाइल फोटो

जयपुर:

राजस्थान सियासी संकट मामले में सचिन पायलट (Sachin Pilot) कैंप की अर्जी पर केंद्र को पार्टी बनाने के लिए राजस्थान हाईकोर्ट सहमत हो गया है. हालांकि सचिन पायलट (Sachin Pilot) सहित 19 विधायकों के खिलाफ विधानसभा अध्यक्षता की ओर से दिए गए नोटिस पर हाईकोर्ट का फैसला आने में अभी देरी है. सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार का भी भविष्य अब इस फैसले के बाद तय होगा.

यह भी पढ़ें

इससे पहले हाईकोर्ट ने इस मामले में सुनवाई करते हुए आज के दिन के लिए फैसला टाल दिया था. इसे सचिन पायलट के लिए फौरी राहत माना गया. लेकिन हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष की ओर से सुप्रीम कोर्ट में अपील की गई जिसमें कहा गया है कि संविधान की 10वीं अनुसूची के अंतर्गत उनके द्वारा की जा रही अयोग्यता की कार्यवाही से हाईकोर्ट रोक नहीं लगा सकता है. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस दलील को खारिज कर दिया है साथ ही कई अहम टिप्पणी भी की हैं. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि हाइकोर्ट इस मामले में अपना निर्णय सुना सकता है.

हाईकोर्ट का फैसला और संभावनाएं

1- अगर हाईकोर्ट विधानसभा अध्यक्ष की ओर से की जा रही है अयोग्यता की कार्यवाही को सही ठहराता है तो सचिन पायलट सहित 18 विधायकों की संख्या घट जाएगी. इससे सदन में मौजूदा सदस्यों की संख्या घट जाएगी और अशोक गहलोत के लिए बहुमत साबित करना आसान हो जाएगा.  माना जा रहा है कि अशोक गहलोत के पास कम से कम 101 विधायकों का समर्थन है और बहुमत के लिए भी 101 ही विधायक चाहिए. लेकिन अगर सचिन और पायलट के समर्थक 18 विधायक अयोग्य घोषित होते हैं तो सदन में बहुमत का आंकड़ा 91 के पास आ जाएगा. 

2- वहीं अगर सचिन पायलट और बागी विधायकों के पक्ष में फैसला आता है तो अशोक गहलोत के लिए मुश्किल हो सकती है क्योंकि उनके पास बहुमत से बहुत ज्यादा विधायक नही हैं. हालांकि अशोक गहलोत का दावा है कि उनके पास बहुमत से ज्यादा विधायक हैं.  

3- बात बीजेपी की करें तो वह अभी पूरी शांत है. विधानसभा में उसके विधायकों की संख्या 75 है. कांग्रेस के 19 बागी और बीटीपी विधायको की जोड़ भी दें तो यह आंकड़ा 99 तक पहुंचता है. 

कुल मिलाकर यह है कि आज सचिन पायलट और सीएम अशोक गहलोत के लिए चुनौती भरा दिन है. लेकिन ये जरूर कहा जाता है कि हाईकोर्ट का फैसला कुछ भी आए. मामला अभी राजनीति के बराबरी के दांवपेंचों का है और न रास्ता सचिन पायलट के लिए आसान और न अशोक गहलोत के लिए

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

केरल में एक साल तक गाइडलाइन लागू; पब्लिक प्लेस पर मास्क ना पहनने पर 10 हजार जुर्माना; देश में अब तक 6.75 लाख केस

[ केरल में कोरोनावायरस के चलते लागू की गईं गाइडलाइंस अब जुलाई 2021 तक जारी रहेंगीदेश में कुल संक्रमित मरीजों में से 60% से...

गहलोत ने पीएम को लिखी चिट्ठी, कहा- चुनी हुई सरकार गिराने की कोशिश में बीजेपी

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

बिना लाइसेंस रामदेव ने लॉन्च की कोरोना की दवा, मिला सरकारी नोटिस, कहा- क़ानून तोड़ रहे हैं, पढ़िए पूरा पत्र

https://www.youtube.com/watch?v=Xy9DaAZhE0Qhttps://www.youtube.com/watch?v=Xy9DaAZhE0Q हालांकि, केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने बुधवार को कहा कि पतंजलि आयुर्वेद ने कंपनी की उस औषधि के बारे में अपनी रिपोर्ट आयुष...

कानपुर में विकास की गाड़ी पलटी, पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की; जवाबी कार्रवाई में सीने और कमर में गोली लगने से मौत

[ विकास की गिरफ्तारी गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से हुई थीयूपी एसटीएफ विकास को ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर ले जा रही थी दैनिक...

2019 के मुकाबले 5.38% अच्छा रिजल्ट; कुल 1059080 स्टूडेंट्स पास हुए, इस बार भी लड़कियां लड़कों से 5.96% से आगे रहीं

[ पिछले साल रिजल्ट 2 मई को आए थे, लेकिन इस वर्ष कोरोना लॉकडाउन के कारण जुलाई में आयासबसे ज्यादा तिरुवनंतपुरम रीजन में 97.67%...