Home मुख्य समाचार चार धाम रोड प्लान पर विशेषज्ञों की आपत्ति, कहा हिमालयन ब्लंडर

चार धाम रोड प्लान पर विशेषज्ञों की आपत्ति, कहा हिमालयन ब्लंडर

[

Edited By Bharat Malhotra | टाइम्स न्यूज नेटवर्क | Updated:

एक्सपर्ट की राय, हिमालयन ब्लंडर है चार धाम प्लान

दीपक के दाश, नई दिल्ली

चार धाम रोड प्रोजेक्ट पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त की गई समिति के दो विशेषज्ञ सदस्यों ने इस सड़क को चौड़ा करने पर गंभीर सवाल उठाए हैं। 900 किलोमीटर लंबी इस सड़क को 10 मीटर चौड़ा किया जा रहा है। विशेषज्ञों ने इसे ‘हिमालयन ब्लंडर’ कहा है। इस ‘अल्पमत’ राय को मुख्य रिपोर्ट में शामिल किया गया है। इस पैनल की अध्यक्षता पर्यावरणविद रवि चोपड़ा कर रहे हैं। पैनल ने पर्यावरण, जंगल और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (MoEFCC) को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।

चोपड़ा ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि यह आपत्ति हेमंत ध्यानी और नवीन जुयाल ने दर्ज करवाई थी। उन्होंने सड़क और हाईवे मंत्रालय के उस फैसले पर ऐतराज जताया था जिसमें पूरे प्रोजेक्ट को 53 छोटे प्रोजेक्ट में बांटा गया था ताकि इनवारयमेंट इम्पैक्ट असेसमेंट (EIA) से बचा जा सके, जबकि सभी पहाड़ियां बहुत करीब-करीब हैं। हर स्ट्रेच 100 किलोमीटर से कम है। MoEFCC के नियमों के अनुसार 100 किलोमीटर से लंबे प्रोजेक्ट के लिए EIA स्टडी जरूरी है।

21 सदस्यीय इस समूह में पांच लोगों, जिनमें चोपड़ा भी शामिल हैं, ने अपनी आपत्ति दर्ज करवाई थी। ये लोग सड़क की चौड़ाई 10 मीटर बढ़ाए जाने के खिलाफ हैं। हालांकि ज्यादातर सदस्य सड़क की चौड़ाई बढ़ाए जाने के पक्ष में हैं। बहुसंख्यक समूह ने भी अपनी अंतिम रिपोर्ट मंत्रालय को दे दी है। इसमें नुकसान को कम करने के रास्ते भी सुझाए गए हैं।

भूविज्ञानी हेमंत जुयाल ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘हमारी राय ऐतिहासिक डेटा पर आधारित है। ये स्ट्रेच, खास तौर हिमालय के ऊंचे इलाकों में, काफी खतरनाक हैं। हमने कहा है कि पीपलकोटी और पातालगंगा के बीच के रास्ते को बिलकुल भी नहीं छेड़ा जाना चाहिए। हमारे पास सड़क निर्माण और सड़कों को चौड़ा करने के लिए काफी फंड है लेकिन स्लोप मैनेजमेंट के लिए मुश्किल से ही कोई फंड है। जो इन इलाकों में काफी महत्वपूर्ण है।’

उन्होंने आगे कहा कि जहां पहाड़ काटे जा चुके हैं वहां भी सिर्फ 5.5 मीटर की सड़क वाहनों के लिए इस्तेमाल होनी चाहिए बाकी पर हरियाली और पैदल यात्रियों के लिए रास्ते बनने चाहिए।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Lalu Yadav News: आम आदमी फर्श पर, गरीब-गुरबों के नेता लालू की खातिरदारी में रिम्स के 18 कमरे खाली

[ Publish Date:Sun, 26 Jul 2020 12:27 AM (IST) रांची, राज्य ब्यूरो। Lalu Prasad Yadav राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव यदि एक दल के...

जब महीनों बाद अपने पुराने साथियों के साथ आमने-सामने आ गए ज्योतिरादित्य सिंधिया…

[राज्यसभा में शपथ लेने के दौरान दिग्विजय सिंह से मिले ज्योतिरादित्य सिंधिया.खास बातेंबुधवार को राज्यसभा में शपथग्रहण समारोह दिग्विजय सिंह से हुई सिंधिया का...

देश के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को मिलेगा नवंबर तक मुफ्त राशन : प्रधानमंत्री मोदी

; if (d.getElementById(id)) return; js = d.createElement(s); js.id = id; js.async=true; is_fb_sdk=true; js.src="https://connect.facebook.net/en_GB/sdk.js#xfbml=1&version=v3.2&appId=1652954484952398&autoLogAppEvents=1"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk')); } //comment...

गुजरात: एक तिहाई बहुमत से सरकार बना रहे थे हार्दिक पटेल, ट्रोल हुए तो डिलीट किया ट्वीट

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

कानपुर एनकाउंटर जांच: STF का खुलासा, दरोगा को फोन पर बोला विकास दुबे- आज निपट लेंगे पुलिस से

https://www.youtube.com/watch?v=qptbWr5dV84शाम को दरोगा से और दबिश से पहले सिपाही से की थी बातन्यूज18 को मिली जानकारी के मुताबिक, अब तक की जांच में...