Home मुख्य समाचार Rajasthan Crisis: सियासी संकट के बीच BTP के दो विधायक क्यों हैं...

Rajasthan Crisis: सियासी संकट के बीच BTP के दो विधायक क्यों हैं किंग मेकर? जानें पूरा मामला

[

जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में चल रहे राजनीतिक संकट के बीच शनिवार का दिन सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के लिए खुशियां ले कर आया. प्रदेश में राजनीतिक अस्थिरता की शुरुआत में जिस भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) ने अपने विधायकों राजकुमार रोत और रामप्रसाद डिंडोर को तटस्थ रहने को कहा था, शनिवार को पार्टी ने अशोक गहलोत सरकार को अपना समर्थन पत्र सौंप दिया. पार्टी ने 13 जुलाई को ही व्हिप जारी कर साफ कर दिया था कि उनके दोनों विधायक भाजपा और कांग्रेस दोनों से दूरी बना कर रखेंगे, लेकिन अचानक पार्टी ने यू-टर्न ले लिया. बीटीपी ने खुल कर अशोक गहलोत की सरकार का समर्थन कर दिया है. अशोक गहलोत भी दोनों विधायकों को राजभवन ले जाकर राज्यपाल कलराज मिश्र को दोनों का समर्थन पत्र सौंप दिया है.

अशोक गहलोत कितना मजबूत?
बता दें कि राजस्थान में 2018 विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश के आदिवासी इलाकों में भाजपा और कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती बनकर उभरी भारतीय ट्राइबल पार्टी ने दावा किया था कि राज्य के राजनीतिक संकट के समाधान में उसकी भूमिका निर्णायक होगी. गुजरात आधारित पार्टी के महेशभाई सी वसावा ने कहा, ‘‘वर्तमान राजनीतिक स्थिति में हम किंग मेकर बनने की स्थिति में हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आदिवासी इलाकों में विकास और आदिवासी हितों से जुड़ी मांगें मानने के आश्वासन के बाद हमने अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन देने का निर्णय लिया.’’

सीएम अशोक गहलोत ने राज्यपाल से मुलाकात की.

बीटीपी ने दोनों विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा
उन्होंने कहा कि आदिवासी मामलों को लेकर हम कांग्रेस और भाजपा के खिलाफ खड़े थे, लेकिन सरकार ने अब हमारे मुद्दों पर साथ देने का आश्वासन दिया है. इसलिए हम सरकार को पूरा समर्थन दे रहे हैं. आखिरकार सरकार आदिवासी कल्याण और विकास के एजेंडे को पूरा कर रही है. बीटीपी क्षरा व्हिप जारी किए जाने के बावजूद डंगूरपुर जिले के सागवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक डिंडोर ने कहा था कि वह और रोत गहलोत सरकार का साथ देंगे.

गहलोत को मुद्दों पर साथ देने का आश्वासन
डूंगरपुर जिले के चौरासी विधानसभा क्षेत्र से विधायक रोत का कहना है, ‘‘हमने कांग्रेस सरकार द्वारा अपनी मांगों पर आश्वासन मिलने के बाद पिछले पिछले राज्यसभा चुनाव में उसका साथ दिया था. लेकिन, हमारी मांगें पूरी नहीं हुईं. इसलिए हमने पहले गहलोत सरकार को समर्थन नहीं देने का फैसला किया था, लेकिन जब उन्होंने मांगे तत्काल मान लेने का आश्वासन दिया तो हमने अपना फैसला बदल लिया.’’

गौरतलब है कि रोत ने डूंगरपुर जाने के दौरान जयपुर में पुलिस द्वारा रोके जाने और उनके वाहन की चाभी छीन लेने संबंधी जो वीडियो जारी किए थे, वह वीडियो वायरल हो गए थे. रोत ने आरोप लगाया था कि पुलिस उन्हें जाने नहीं दे रही है. इस कथित वीडियो के आने के बाद भाजपा ने आचरण को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा था.

Rajasthan: पायलट और उनके समर्थक विधायकों के खिलाफ कार्रवाई का प्रस्ताव पारित Rajasthan- Jaipur- political crisis over Ashok Gehlot government- Legislature Party meeting- PPC Chief Sachin Pilot- motion passed against rebels

सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों को पार्टी से निकालने के प्रस्ताव का समर्थन करते विधायक.

एक विधायक का वीडियो वायरल हुआ था
रोत ने कहा कि मुझे नहीं पता पुलिसकर्मियों के दिमाग में क्या चल रहा था. उन्होंने कहा कि कुछ गलतफहमी थी और अब सब ठीक है. रोत ने कहा कि उनकी पार्टी बीटीपी का एजेंडा आदिवासी क्षेत्रों का विकास है और मुख्यमंत्री के समक्ष रखी गयी सभी 17 मांगें इसी से जुड़ी हुई हैं.

पिछले सोमवार से जयपुर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग के जिस होटल में अशोक गहलोत खेमे के विधायक डेरा डाले हुए हैं उसके बाहर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ एक संयुक्त प्रेस वार्ता में शनिवार को बीटीपी के विधायकों ने अधिकारिक तौर पर अशोक गहलोत सरकार के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन देने की घोषणा की थी. पार्टी के एक अन्य नेता ने बताया कि हमारी मांग आदिवासी इलाके में भर्तियों में आरक्षण, आदिवासी इलाके के फंड को केवल आदिवासी कल्याण पर खर्च करने से जुड़ी है.

Rajasthan Crisis-Talk with Sachin Pilot again on Priyanka Gandhi intervention

अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट की राजनीतिक लड़ाई में पार्टी और विधायक खेमेबाजी में बंट गई है.

गुजरात की पार्टी है बीटीपी
2018 के राजस्थान विधानसभा चुनाव से पूर्व 2017 में गुजरात से राजस्थान में प्रवेश करने वाली पार्टी ने राजस्थान के दक्षिण इलाकों के आदिवासी क्षेत्र में 11 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे थे और दो विधायकों ने जीत दर्ज की थी. अधिकतर पार्टी उम्मीदवार युवा थे और रोत जब चुनाव जीते थे उस समय केवल 26 साल के थे.

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को अस्थिर करने के कथित षडयंत्र मामले में पुलिस के विशेष कार्यबल एसओजी द्वारा 10 जुलाई को मामला दर्ज किये जाने के बाद राज्य में राजनीतिक संकट शुरू हुआ. उस प्राथमिकी के संबंध दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. संकट उस समय गहरा गया था जब पायलट ने व्हाट्सएप ग्रुप में एक बयान के जरिये दावा किया कि अशोक गहलोत सरकार अल्पमत में है और उनके पास 30 विधायकों को समर्थन है.

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: 20 जुलाई से पूरे देश में लागू होगा कंज्यूमर प्रोटेक्शन एक्ट, सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन

कांग्रेस ने अशोक गहलोत मंत्रिमंडल से सचिन पायलट, विश्वेन्द्र सिंह और रमेश मीणा को हटा दिया है और विधायक भंवरलाल शर्मा व विश्वेन्द्र सिंह को षडयंत्र में शामिल होने के आरोप में निलंबित कर दिया है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

ICICI Bank-Videocon मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED ने दीपक कोचर को गिरफ्तार किया

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

बुलंदशहर: चर्चित पूर्व विधायक गुड्डू पंडित ने ‘फरसे’ से केक काटकर मनाया जन्मदिन, केस दर्ज

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source link

चीन के जासूसी नेटवर्क का भंडाफोड़: भारत, ब्रिटेन, ऑस्‍ट्रेलिया…दुनियाभर में 24 लाख लोगों की कर रहा था जासूसी

[हाइलाइट्स:दुनियाभर में 24 लाख अति‍महत्‍वपूर्ण लोगों के चीन की जासूसी का शिकार होने का बड़ा खुलासा हुआ हैइस जासूसी को चीन की सेना...

पुरी के जगन्नाथ मंदिर में देवस्नान के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, पुजारियों ने मास्क भी नहीं पहना – देखें VIDEO

[5 जून को देशभर में स्नान पूर्णिमा मनाई जा रही है.खास बातेंआज मनाई जा रही है स्नान पूर्णिमा पुरी के भगवान जगन्नाथ को कराया...

कोरोना के इलाज में बड़ी कामयाबी: स्‍टेरॉयड डेक्‍सामेथासोन से कोविड-19 के एक तिहाई बेहद गंभीर मरीज ठीक हुए

[प्रतीकात्‍मक फोटोलंदन: Covid-19 Pandemic: कोरोना वायरस की महामारी के इलाज के मामले में एक अच्‍छी खबर सामने आई है. ट्रायल में खुलासा हुआ...

India-China Conflict: राजनाथ सिंह और चीन के रक्षा मंत्री के बीच बैठक खत्म, 2 घंटे 20 मिनट तक चली वार्ता

[नई दिल्लीपूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंग के बीच हुई...