Home मुख्य समाचार अगर हाईकोर्ट सुनाता है सचिन पायलट के पक्ष में फैसला, तो ये...

अगर हाईकोर्ट सुनाता है सचिन पायलट के पक्ष में फैसला, तो ये है कांग्रेस का ‘प्लान B’

[

सरकार बचाने के लिए कांग्रेस ने तैयार किया प्लान-बी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राजस्थान में सियासी संग्राम (Rajasthan Crisis) के बीच कांग्रेस प्लान बी पर काम कर रही है. इस प्लान को तब अमल में लाया जाएगा जब सचिन पायलट (Sachin Pilot) और उनके बागी विधायकों को राजस्थान उच्च न्यायालय (Rajasthan High Court) से राहत मिल जाए. कांग्रेस के बागी विधायकों की याचिका पर सोमवार को सुनवाई फिर शुरू होगी. विधायकों ने किसी भी पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने से इनकार करते हुए स्पीकर के नोटिस को हाई कोर्ट में चुनौती दी है. 

यह भी पढ़ें

कांग्रेस की लीगल टीम से जुड़े सूत्रों ने कहा कि यदि उच्च न्यायालय का फैसला पायलट खेमे के पक्ष में आता है तो अगले कदम के रूप में पार्टी विधानसभा का सत्र बुलाने की योजना बना रही है. 

इस स्थिति में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना होगा. कांग्रेस पहले से ही दावा कर रही है कि उसके पास बहुमत से ज्यादा नंबर हैं. मुख्य व्हिप महेश जोशी कांग्रेस के सभी विधायकों को पार्टी के पक्ष में वोट करने के लिए व्हिप जारी करेंगे. 

यदि पायलट खेमा व्हिप का उल्लंघन करता है या फिर अनुपस्थित रहता है तो इसे व्हिप के विपरीत कार्य माना जाएगा और दसवीं अनुसूची की धारा 2(1)(बी) के तहत अयोग्य घोषित किया जाएगा. हालांकि, इसे अदालत में चुनौती दी जा सकती है. 

पायलट और उनकी टीम के खिलाफ अभी संविधान की 10वीं अनुसूची की धारा 2(1)(ए) के तहत अयोग्य ठहराने की प्रक्रिया चल रही है. जिसे दलबदल विरोधी कानून (Anti-Defection law) के नाम से जाना जाता है. पायलट और उनके साथी 18 विधायकों को नोटिस जारी किया गया है. वे हरियाणा में किसी अज्ञात स्थान पर डेरा डाले हुए हैं. नोटिस को उनके घर के बाहर या फोन और व्हाट्सएप पर मैसेज के जरिये भेजा गया है. 

यदि बागी विधायकों को अयोग्य ठहराया गया तो 200 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा कम हो जाएगा और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अपनी सरकार बचाने का एक आसान मौका मिल जाएगा. गहलोत ने शनिवार को राज्यपाल से मुलाकात की थी. गहलोत का दावा है कि उनके पास 109 विधायकों का समर्थन है. 

वीडियो: जारी है राजस्थान का सियासी ड्रामा

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

अयोध्या : क्यों राम मंदिर भूमि पूजन से पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा करेंगे पीएम मोदी, पुजारी ने बताई वजह

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

पीएम मोदी की राह चले डोनाल्ड ट्रंप, चीनी ऐप टिकटॉक पर लगाएंगे बैन!

[TikTok Ban in America: चीन से खफा अमेरिका भी भारत की राह पर है। राष्ट्रपति ट्रंप के एक बयान के मुताबिक, वह टिकटॉक...

LAC पर तनाव के बीच रूस में मिले भारत और चीन के रक्षा मंत्री, तस्वीरें बयां कर रहीं बातचीत में क्या हुआ

[हाइलाइट्स:पूर्वी लद्दाख में जारी जबरदस्त तनाव के बीच रूस की राजधानी मॉस्को में मिले भारत और चीन के रक्षा मंत्रीराजनाथ सिंह-वेई फेंघे के...

अयोध्या: राम मंदिर के भूमिपूजन को भव्य बनाने की तैयारी, VHP ने तैयार किया मेगाप्लान

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

Kulbhushan Jadhav News: भारत ने पाकिस्तान से की क्वींस काउंसिल की मांग, हरीश साल्वे करेंगे जाधव की पैरवी?

[हाइलाइट्स:भारत ने अपने नागरिक कुलभूषण जाधव को क्वींस काउंसिल मुहैया कराने को कहा है क्वींस काउंसिल टाइटिल वाले वकील पूरी दुनिया में कहीं...

क्‍वारंटाइन सेंटर में ऐश-मौज: 3 तब्‍लीगी महिलाओं के गर्भवती होने के मामले की जांच लटकी, जानें कब उठेगा पर्दा?

[ Publish Date:Mon, 27 Jul 2020 08:02 AM (IST) रांची, जेएनएन। 3 Tablighi Jamaat Women Pregnant झारखंड के क्‍वारंटाइन सेंटर में तब्‍लीगी जमात की...