Home मुख्य समाचार Bhind: 'शिकायतकर्ता की छाती पर गाड़ा जाएगा हैंडपंप', जवाब देने वाले अधिकारी...

Bhind: ‘शिकायतकर्ता की छाती पर गाड़ा जाएगा हैंडपंप’, जवाब देने वाले अधिकारी पर गिरी गाज

[

एमपी के भिंड जिले में पीएचई विभाग ने एक शिकायतकर्ता को अटपटा जवाब दिया था। मामला सामने आने के बाद संबंधित अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है। शिकायतकर्ता ने हैंडपंप की शिकायत की थी।

Edited By Muneshwar Kumar | Lipi | Updated:

हाइलाइट्स

  • भिंड जिले में अटपटा जवाब देने वाले अधिकारी पर कार्रवाई
  • पीएचई विभाग ने शिकायतकर्ता को कहा था पागल
  • भिंड के राहुल दीक्षित ने सीएम हेल्पलाइन पर की थी हैंडपंप की शिकायत
  • कार्यपालन यंत्री का जवाब हो गया था सोशल मीडिया पर वायरल

भिंड

जिले में पीएचई विभाग ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत करने वाले शिकायतकर्ता को पागल बताया था। जवाब वायरल होने के बाद पीएचई विभाग के एक अधिकारी पर कार्रवाई हुई है। सरकार ने कार्यपालन यंत्री पीआर गोयल को निलंबित कर दिया है। इसे लेकर गुरुवार शाम को आदेश जारी कर दिया गया है।

दरअसल, भिंड के लहार इलाके के राहवली बेहड़ गांव के निवासी राहुल दीक्षित ने एक हैंडपंप के खनन के अधूरे काम की शिकायत सीएम हेल्प लाइन पर की थी। इस शिकायत के निराकरण में पीएचई विभाग के कार्यपालन यंत्री पी आर गोयल ने जवाब लिखते हुए शिकायतकर्ता को पागल बताया था। उसे परिवार समेत मिर्गी का मरीज बताते हुए, उसकी ही छाती में हैण्डपंप गाड़ने की बात लिख दी थी।

सीएम हेल्पलाइन में हैंडपंप की शिकायत, जवाब सुन शिकायतकर्ता के उड़े होशसीएम हेल्पलाइन में हैंडपंप की शिकायत, जवाब सुन शिकायतकर्ता के उड़े होश<b>भिंड</b><br /><br />एमपी में सीएम हेल्पलाइन अजीबोगरीब जवाब को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहती है। इस बार भिंड जिले के एक फरियादी ने हैंडपप की शिकायत सीएम हेल्पलाइन में की थी। पीएचई विभाग ने जवाब भी दिया, लेकिन वह होश उड़ा देने वाला है। विभाग ने शिकायतकर्ता को ही पागल करार दे दिया है। <br /><br /> दरअसल, भिंड के पीएचई अधिकारियों का एक अनोखा कारनामा सामने आया है। सीएम हेल्पलाइन पर की गई एक हैंडपंप की शिकायत का निराकरण करते हुए अधिकारियों ने शिकायतकर्ता को पागल तक बता दिया है। इतना ही नहीं शिकायतकर्ता की छाती पर हैंडपंप गाड़ने तक की बात लिख दी है। <br />मामला जब मीडिया में आया, तो अधिकारी अब इस पर सफाई देते हुए कह रहे हैं कि ये आईडी और पासवर्ड ट्रेस करके विभाग के ही किसी व्यक्ति ने शरारत की है।<br /><br /> <b>यह है मामला</b><br />जिले के लहार स्थित राहवली बेहड़ गांव में आठ महीने पहले पीएचई विभाग द्वारा हैंडपंप लगाने के लिए खनन किया था। लेकिन अधिकारियों की उदासीनता और लापरवाही के चलते हैंडपंप के कार्य को अधूरा ही छोड़ दिया गया था। 8 महीने बीत जाने के बाद भी जब हैंडपंप शुरू नहीं हुआ, तो गांव के राहुल दीक्षित नाम के युवक ने 7 जून को सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत कर दी। एक महीने बाद 9 जुलाई को पीएचई विभाग द्वारा शिकायतकर्ता का जवाब भेजा गया। <br /><b><br /> पागल हैं आप</b><br />जवाब में पीएचई विभाग की तरफ से लिखा गया कि शिकायतकर्ता पागल है, मिर्गी के दौरे आते हैं। हैंडपंप खराब नहीं है, इसका दिमाग खराब है। पूरी पीएचई महकमा जानता है। मेरे हैंडपंप मैकेनिक के इस पागल ने कपड़े फाड़ दिए थे। अब वक्त आ गया है कि चीनी युद्ध किया जाए, जो गोरिल्ला नीति है। हैंडपंप उखाड़कर शिकायतकर्ता की छाती में गाड़ा जाएगा।<br /><br /><b>शिकायतकर्ता हैरान</b><br />इस जवाब को पढ़कर शिकायतकर्ता राहुल भी चकरा गया। मामला जब मीडिया में आया तो पीएचई विभाग के अधिकारी भी हरकत में आ गए। उन्होंने आनन फानन में राहवली बेहड़ गांव के हैंडपंप को अधूरे काम को पूरा करवाया। साथ ही जबाब को पोर्टल से डिलीट कर दिया। <br /><br />शिकायतकर्ता का कहना है कि ऐसे अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। जबकि पीएचई विभाग के कार्यपालन यंत्री पी के गोयल का कहना है कि विभाग के ही किसी व्यक्ति ने आईडी और पासवर्ड ट्रेस करके, ये शरारत की है। इस बात की शिकायत कलेक्टर को भी कर दी है।

क्या दिया था जवाब

जवाब में पीएचई विभाग की तरफ से लिखा गया कि शिकायतकर्ता पागल है, मिर्गी के दौरे आते हैं। हैंडपंप खराब नहीं है, इसका दिमाग खराब है। पूरी पीएचई महकमा जानता है। मेरे हैंडपंप मैकेनिक के इस पागल ने कपड़े फाड़ दिए थे। अब वक्त आ गया है कि चीनी युद्ध किया जाए, जो गोरिल्ला नीति है। हैंडपंप उखाड़कर शिकायतकर्ता की छाती में गाड़ा जाएगा।

शिव’राज’ में PHE विभाग, ‘चीनी युद्ध किया जाए, हैंडपंप उखाड़ कर शिकायतकर्ता की छाती पर गाड़ा जाएगा’

मामले की जानकारी जब वरीय अधिकारियों को लगी, तो हड़कंप मच गया है। उसके बाद अधिकारियों ने इस मामले में जांच शुरू की है और कार्यपालन यंत्री को निलंबित कर दिया है। ये कार्रवाई भोपाल से हुई है। गौरतलब है कि सीएम हेल्पलाइन में आनलॉइन कोई भी व्यक्ति अपनी समस्याओं की शिकायत कर सकता है। वहां से समाधान के लिए उसे संबंधित विभाग को भेज दिया जाता है।

Web Title hand pump will be buried on complainant’s chest, the answering officer suspended(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

पुलवामा अटैक के बाद 43 लड़के जैश-ए-मोहम्मद में हुए शामिल : रिपोर्ट

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

बिहार में कोविड-19 संक्रमण के 2082 नये केस मिले, 12 की मौत, मरीजों की संख्या 48 हजार के पार

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

मन की बात: कारगिल विजय दिवस पर बोले पीएम मोदी- पाकिस्तान ने की थी पीठ में छुरा घोंपने की कोशिश, फिर दुनिया ने देखी भारत की ताकत

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

Rajasthan BSTC Admit Card 2020 : वेबसाइट में दिक्कत, अब यूं मिल रहे हैं राजस्थान बीएसटीसी एडमिट कार्ड

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

‘मैं पल दो पल का शायर हूं…’ गाना शेयर कर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इंटरनैशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

बड़ी खबर: राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन को रोकने के लिए हाईकोर्ट में लेटर पिटिशन, जानें क्‍या हैं तर्क?

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...