Home मुख्य समाचार दिल्ली सरकार की सभी यूनिवर्सिटी के सारे एग्जाम कैंसल, कोरोना की वजह...

दिल्ली सरकार की सभी यूनिवर्सिटी के सारे एग्जाम कैंसल, कोरोना की वजह से सरकार ने लिया फैसला

[

Edited By Vishnu Rawal | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

दिल्ली स्टेट यूनिवर्सिटीज के पेपर कैंसल
हाइलाइट्स

  • दिल्ली सरकार ने किया ऐलान, राज्य सरकार की सभी यूनिवर्सिटीज के एग्जाम कैंसल
  • दिल्ली सरकार ने फाइनल ईयर के एग्जाम भी रद्द किए, डिग्री यूनिवर्सिटी अपने मूल्यांकन पर देगी
  • हालांकि दिल्ली यूनिवर्सिटी के जो कॉलेज दिल्ली सरकार के हैं, उनपर फैसला केंद्र सरकार लेगी

नई दिल्ली

कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली सरकार ने तय किया है कि उनकी किसी स्टेट यूनिवर्सिटी में फिलहाल कोई एग्जाम नहीं (delhi state university exam cancel) होगा। इसमें फाइनल ईयर के एग्जाम भी शामिल हैं। लोगों को डिग्री यूनिवर्सिटी द्वारा तय मूल्यांकन मापदंडों के हिसाब से दी जाएगी। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज यह ऐलान किया।

किन-किन यूनिवर्सिटी में नहीं होंगे एग्जाम

दिल्ली सरकार की आईपी यूनिवर्सिटी, आंबेडकर यूनिवर्सिटी, डीटीयू व अन्य संस्थानों में नहीं होंगे एग्जाम। लेकिन दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) से जुड़े दिल्ली सरकार के कॉलेजों के बारे में केंद्र को फैसला करना होगा। दिल्ली सरकार का मानना है कि ऐसे मे जिस सेमेस्टर को पढ़ाया नहीं गया, उसकी परीक्षा कराना मुश्किल है। सरकार का मानना है कि इस समय में बड़े फैसले लिए जाने है।

मनीष सिसोदिया ने इसकी जानकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दी। वह बोले कि पूरा सेमिस्टर पढ़ाई नहीं हुई है तो ऐसे में एग्जाम कैसे। उन्होंने बताया कि यूनिवर्सिटीज से यह भी कहा गया है कि डिग्री रोककर न रखें। उन्होंने बताया कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के साथ बाकी राज्यों की भी केंद्रीय यूनिवर्सिटीज के एग्जाम कैंसल करवाने के लिए पत्र लिखा है।

इससे पहले एचआरडी मिनिस्ट्री ने सोमवार को ऐलान किया था कि यूनिवर्सिटीज में फाइनल ईयर के एग्जाम सितंबर के आखिर में कराए जाएंगे। ये एग्जाम जुलाई में होने थे लेकिन कोरोना वायरस महामारी की वजह से उन्हें सितंबर के आखिर तक के लिए टाल दिया गया है। हालांकि, यूजीसी की नई गाइडलाइंस के मुताबिक सितंबर में फाइनल ईयर एग्जाम में हिस्सा न लेने वाले स्टूडेंट्स को एक दूसरा मौका मिलेगा और यूनिवर्सिटीज उनके लिए स्पेशल एग्जाम कराएंगी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

सुशांत केस: AIIMS की रिपोर्ट पर बोली मुंबई पुलिस- आखिर हमारी बात ही सच साबित हुई न

[ सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह ने शनिवार को कहा कि ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट...

सैटेलाइट तस्वीरों में खुलासा- गलवान नदी के बहाव को बुलडोजर की मदद से प्रभावित कर रहा चीन…

[नई दिल्ली: NDTV को प्राप्त हुई हाई रिजोल्यूशन सेटेलाइट इमेज बताती हैं कि चीन उत्तर पूर्वी लद्दाख में गलवान नदी के बहाव को...

Exclusive: जेल से बाहर आकर यूपी कांग्रेस चीफ अजय लल्लू ने सुनाई ‘व्यथा’

[Ajay Kumar Lallu Exclusive Interview: उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (UP Congress Chief Ajay Kumar Lallu) 27 दिनों तक...

गोपालगंज पुल पर बवाल, तेजस्वी बोले- सच बताने वाले ग्रामीणों पर केस दर्ज कर रही सरकार

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

‘देश के जवान मारते-मारते मरे हैं, हमारे सैनिकों का बलिदान व्यर्थ नहीं होगा’

[ India-China Border Face-Off Today Latest News Live Updates: भारत और चीन की सेनाओं के बीच लद्दाख के गलवान रिवर फ्रंट पर सोमवार रात हुई...