Home मुख्य समाचार भारत-चीन लद्दाख से सैनिकों को पीछे हटाने पर सहमत, LAC पर पेट्रोलिंग...

भारत-चीन लद्दाख से सैनिकों को पीछे हटाने पर सहमत, LAC पर पेट्रोलिंग पर रोक

[

नई दिल्‍ली: भारत और चीन पूर्वी लद्दाख से सैनिकों को पूरी तरह से पीछे हटाने पर सहमत हो गए हैं. दोनों देशों ने एलएसी पर पेट्रोलिंग पर रोक लगाई. सभी 4 स्‍थानों पर भारत-चीन के सैनिक पीछे हट रहे हैं. दोनों तरफ के सैनिकों के बीच बफर जोन नहीं है. भारत और चीन ने पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर शुक्रवार को राजनयिक स्तर की वार्ता की और वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर शांति पूरी तरह बहाल करने के लिए क्षेत्र से सैनिकों के पूरी तरह पीछे हटने पर सहमति जताई.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत-चीन सीमा मामलों पर परामर्श और समन्वय के लिए कार्य प्रणाली (डब्ल्यूएमसीसी) की रूपरेखा के तहत वार्ता आयोजित की गई. मंत्रालय ने बताया कि दोनों पक्षों ने द्विपक्षीय समझौतों तथा प्रोटोकॉल के अनुरूप सीमावर्ती क्षेत्रों में अमन-चैन पूरी तरह बहाल करने के लिए एलएसी के आसपास सैनिकों के पूरी तरह पीछे हटने की बात दोहराई.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘उन्होंने इस बात पर भी सहमति जताई कि द्विपक्षीय संबंधों के समग्र विकास के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों में दीर्घकालिक अमन-चैन बनाए रखना जरूरी है.’’

ऑनलाइन संवाद में भारतीय पक्ष की अगुवाई विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव (पूर्वी एशिया) ने की, वहीं चीनी पक्ष का नेतृत्व चीन के विदेश मंत्रालय में सीमा और समुद्री विभाग के महानिदेशक ने किया. मंत्रालय ने कहा, ‘‘उन्होंने भारत-चीन सीमावर्ती क्षेत्रों में हालात की समीक्षा की जिसमें पश्चिमी क्षेत्र में एलएसी पर जारी सैनिकों के पीछे हटने की प्रक्रिया की प्रगति की समीक्षा भी शामिल है.’’

दोनों पक्षों ने सहमति जताई कि वरिष्ठ कमांडरों के बीच हुई सहमतियों को गंभीरता से लागू करने की जरूरत है.

भारत और चीन की सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में पिछले करीब आठ सप्ताह से कई जगहों पर गतिरोध की स्थिति बनी हुई है. पिछले महीने गलवान घाटी में हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद तनाव और बढ़ गया.

चीनी सेना ने पिछले पांच दिन में भारतीय सेना के साथ सहमतियों के अनुरूप गतिरोध वाले तीन बिंदुओं से सैनिकों की वापसी कराई है. क्षेत्र में तनाव कम करने के लिए दोनों पक्षों ने पिछले कुछ सप्ताह में कई दौर की कूटनीतिक और सैन्य वार्ताएं की हैं.

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Prashant Bhushan Case: सुप्रीम कोर्ट ने भूषण के खिलाफ 2009 के अवमानना मामले को दूसरी पीठ को भेजा

[ न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Tue, 25 Aug 2020 02:04 PM IST प्रशांत भूषण (फाइल फोटो) - फोटो : PTI पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर...

Coronavirus Updates : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 10 लाख के पार, 24 घंटे में 34,956 नए मामले सामने आए

; if (d.getElementById(id)) return; js = d.createElement(s); js.id = id; js.async=true; is_fb_sdk=true; js.src="https://connect.facebook.net/en_GB/sdk.js#xfbml=1&version=v3.2&appId=1652954484952398&autoLogAppEvents=1"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk')); } //comment...

कृषि बिल 2020: YSRCP सांसद ने राज्‍यसभा में लहराया कांग्रेस का मैनिफेस्‍टो, टिप्‍पणी पर बवाल

[हाइलाइट्स:राज्‍यसभा में पेश हुए कृषि क्षेत्र में सुधार से जुड़े तीन अहम विधेयककिसान संगठन सड़क पर, विपक्षी संसद के भीतर कर रहे विरोधबहस...

पुरानी अदावत-नए समीकरण, पढ़ें मणिपुर के सियासी संकट की इनसाइड स्टोरी

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

समुद्र के भीतर 2,312 KM केबल बिछाकर अंडमान तक पहुंचाया फास्ट-स्पीड इंटरनेट – जानें, OFC से जुड़ी ज़रूरी बातें

[Submarine Optical Fibre Cable Connectivity: PM Modi ने 2018 में आधारशिला रखी थी. (फाइल फोटो)खास बातेंकरीब 2300 किलोमीटर बिछाया गया है OFC 1,224 करोड़...

दिल्ली में रातभर हुई जबरदस्त बारिश, दरिया बनीं सड़कें, ये है आज दिनभर का अलर्ट

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link