Home मुख्य समाचार Exclusive: 'पॉल सर' का फर्ज़ी ID इस्तेमाल कर कोटा से सड़क के...

Exclusive: ‘पॉल सर’ का फर्ज़ी ID इस्तेमाल कर कोटा से सड़क के रास्ते उज्जैन पहुंचा था विकास दुबे, एक शराब कारोबारी भी अरेस्ट

[

धरा गया गैंगस्टर विकास दुबे.

नई दिल्ली:

उज्जैन में पुलिस के हत्थे चढ़ा ‘कानपुर का दरिंदा’ विकास दुबे पॉल सर के नाम की फर्जी आईडी का इस्तेमाल कर रहा था. वह राजस्थान के कोटा से सड़क के रास्ते उज्जैन पहुंचा था. विकास दुबे के साथ ही एक शराब कारोबारी को भी गिरफ्तार किया गया है. यह जानकारी मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने NDTV से बात करते हुए दी. गिरफ्तारी के बाद ऐसी जानकारी आई थी कि विकास दुबे फर्जी आईडी का इस्तेमाल कर रहा था. दुबे गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुंचा था, यहां पर उसे एक गार्ड ने पहचान लिया था. उसकी पहचान कन्फर्म होने पर उज्जैन पुलिस को जानकारी दी गई, जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. 

यह भी पढ़ें

बता दें कि विकास दुबे कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद दिल्ली एनसीआर पहुंचा था. दिल्ली एनसीआर में उसे फरीदाबाद में देखा गया था. लेकिन यहां पुलिस के पहुंचने से पहले ही वह चकमा देकर फरार होने में कामयाब रहा. लगभग एक हफ्ते तक पुलिस के शिकंजे से बचते फिरने के बाद आखिरकार उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. उज्जैन में गिरफ्तारी के बाद फिलहाल यूपी का यह कुख्यात गैंगस्टर उज्जैन पुलिस की गिरफ्त में है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर बताया कि उनकी यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात हुई है. उन्होंंने बताया कि मध्य प्रदेश दुबे को यूपी पुलिस को सौंप देगी.

शिवराज सिंह ने ट्वीट कर लिखा, ‘जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धुल जाएंगे, उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं. हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्शने वाली नहीं है.’

बता दें कि गिरफ्तारी के बाद भी विकास दुबे पुलिस पर रौब जमाता नजर आया. एक वीडियो सामने आया है, जिसमें पुलिस उसे गाड़ी में बिठाने ले जा रही है और उसे दो-तीन पुलिसकर्मियों ने पकड़ रखा है. तभी विकास दुबे जोर से चिल्लाता है, ‘मैं विकास दुबे हूं.. कानपुर वाला.’ तभी एक कॉन्स्टेबल ने उसे एक थप्पड़ जड़ दिया, जिसके बाद दुबे चुप हो गया. 

हालांकि, विकास दुबे की दूसरे राज्य में अचानक हुई इस गिरफ्तारी पर सवाल खड़े हो रहे हैं. कई विपक्षी नेताओं ने भी इस गिरफ्तारी पर सवाल उठाया है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाया है कि सरकार स्पष्ट करे कि यह गिरफ्तारी है या सरेंडर.

Video: गिरफ्तारी के बाद बोला गैंगस्टर- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Exclusive: केजरीवाल बोले -हर्ड इम्युनिटी की ओर दिल्ली, मेट्रो खोलने के दिए संकेत

[Edited By Bharat Malhotra | इकनॉमिक टाइम्स | Updated: 24 Jul 2020, 07:55:00 AM IST अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)निधि शर्मा, नई...

रेडियो स्टेशन पर भारत-विरोधी गाने बजा रहा नेपाल, सीमा से सटे भारतीय जिलों में फैला गुस्सा

https://www.youtube.com/watch?v=yKau7jAiK5chttps://www.youtube.com/watch?v=yKau7jAiK5c नेपाल के पूर्व मुख्य सचिव एनएस नापल्च्याल के मुताबिक, नेपाल का प्रोपेगंडा बीते कुछ समय में बढ़ा है और इसका सख्ती से विरोध...

Bihar Election Opinion Poll: क्या सीएम नीतीश को एक और मौका मिलना चाहिए? लोगों ने दी चौंकाने वाली प्रतिक्रिया

[नई दिल्लीबिहार विधानसभा चुनाव मतदान के अब कुछ ही दिन शेष रह गए हैं। इसी बीच लोकनीति-सीएसडीएस ने ओपीनियन पोल कर जनता की...

‘भारत में कोरोना का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन है, मैं IMA के बयान से सहमत हूं’

[नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 19 Jul 2020, 06:09:24 PM IST इंडियन मेडिकल असोसिएशन (IMA) का कहना है कि देश में कोरोना का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन...

सचिन पायलट ने 35 करोड़ के ऑफर का आरोप लगाने वाले कांग्रेस विधायक को लीगल नोटिस भेजा

[Rajasthan Political Crisis: सचिन पायलट ने गिरिराज मलिंगा को भेजा लीगल नोटिस.नई दिल्ली: राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच पूर्व डिप्टी सीएम...