Home मुख्य समाचार महाकाल मंदिर में चिल्लाया- मैं विकास दुबे हूं, कानपुर वाला; 8 पुलिसवालों...

महाकाल मंदिर में चिल्लाया- मैं विकास दुबे हूं, कानपुर वाला; 8 पुलिसवालों का हत्यारा 6 दिन से फरार था, 5 लाख का इनाम था

[

  • गैंगस्टर विकास दुबे सुबह 9 बजे महाकाल मंदिर पहुंचा था, सबसे पहले सिक्योरिटी गार्ड ने पहचाना
  • विकास और उसके साथियों ने कानपुर के बिकरू में हुए शूटआउट में डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी

दैनिक भास्कर

Jul 09, 2020, 12:00 PM IST

उज्जैन. कानपुर के बिकरू में हुए शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे को घटना के सात दिन के बाद गुरुवार सुबह नाटकीय ढंग से उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया। वह महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचा था। उत्तर प्रदेश समेत तीन राज्यों की पुलिस उसकी तलाश कर रही थी।

पिछले सात दिनों से उसके दिल्ली, नोएडा, फरीदाबाद और मध्यप्रदेश में छिपने की खबरें आ रही थीं। उधर, मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, ‘‘गैंगस्टर विकास दुबे मध्यप्रदेश पुलिस की कस्टडी में है। गिरफ्तारी कैसे हुई, इसके बारे कुछ भी कहना ठीक नहीं है। विकास के दो साथियों बिट्टू और सुरेश को भी गिरफ्तार किया गया है।’’

विकास की गिरफ्तारी की 3 बातें सामने आईं 
1. विकास ने गुरुवार सुबह बाबा महाकाल के दर्शन के लिए वीआईपी एंट्री के लिए 250 रुपए की रसीद कटवाई। इस दौरान उसने अपना सही नाम विकास दुबे ही लिखवाया। इसके बाद वह महाकाल बाबा के दर्शन के लिए मंदिर परिसर में पहुंचा। दर्शन के बाद विकास वहां मौजूद जवानों के पास गया और बोला कि मैं कानपुर वाला विकास दुबे हूं, मुझे पकड़ लो।
2. उधर, विकास को पकड़वाने वाले सिक्योरिटी गार्ड गोपाल सिंह ने बताया, ‘‘मैंने शक होने पर उसे पूछताछ के लिए रोका तो वह आनाकानी करने लगा। मुझे और ज्यादा शक हुआ, तो मैंने पुलिस को बुलाया। इस पर उसने मेरे साथ झूमाझटकी की। थोड़ी देर में पुलिस आई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।’’
3. ऐसा कहा जा रहा है कि वह खुद सरेंडर करने गया था।

महाकाल मंदिर परिसर में विकास दुबे।

विकास ने अपने मोबाइल पर वीडियो भी बनवाए 
विकास ने गिरफ्तारी से पहले अपने मोबाइल पर कुछ वीडियो भी बनाए। इसके बाद जवानों ने उसे पकड़ लिया। एग्जिट मार्ग से बाहर ले जाकर चौकी में बैठा दिया। इसके बाद पुलिस के अफसरों को जानकारी दी। बाद में पुलिस उसे अज्ञात स्थान पर ले गई। 

मंदिर के सिक्योरिटी गार्ड के साथ विकास दुबे।

शिवराज ने पुलिस को शाबासी दी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विकास की गिरफ्तारी पर मध्यप्रदेश पुलिस को शाबासी दी। उन्होंने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फोन पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि विकास को उत्तरप्रदेश पुलिस को हैंडओवर किया जाएगा। दोनों राज्यों की पुलिस इस पर काम कर रही है।

अखिलेश यादव ने गिरफ्तारी पर सवाल उठाए

7 दिन में विकास दुबे गैंग के 5 बदमाशों का एनकाउंटर

  • इससे पहले बुधवार देर रात विकास दुबे के एक और करीबी प्रभात मिश्रा मारा गया है। प्रभात को पुलिस ने बुधवार को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया था। यूपी पुलिस उसे ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर ले जा रही थी। रास्ते में प्रभात ने भागने की कोशिश की, उसने पुलिस की पिस्टल छीनकर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में प्रभात मारा गया। 
  • पुलिस ने बुधवार को ही विकास के करीबी अमर दुबे का भी एनकाउंटर कर दिया था। अमर हमीरपुर में छिपा था। अब तक विकास गैंग के 5 लोग एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं। 

कानपुर शूटआउट केस में अब तक क्या हुआ?
2 जुलाई: विकास दुबे को गिरफ्तार करने 3 थानों की पुलिस ने बिकरू गांव में दबिश दी, विकास की गैंग ने 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी।
3 जुलाई: पुलिस ने सुबह 7 बजे विकास के मामा प्रेमप्रकाश पांडे और सहयोगी अतुल दुबे का एनकाउंटर कर दिया। 20-22 नामजद समेत 60 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।
5 जुलाई: पुलिस ने विकास के नौकर और खास सहयोगी दयाशंकर उर्फ कल्लू अग्निहोत्री को घेर लिया। पुलिस की गोली लगने से दयाशंकर जख्मी हो गया। उसने खुलासा किया कि विकास ने पहले से प्लानिंग कर पुलिसकर्मियों पर हमला किया था।
6 जुलाई: पुलिस ने अमर की मां क्षमा दुबे और दयाशंकर की पत्नी रेखा समेत 3 को गिरफ्तार किया। शूटआउट की घटना के वक्त पुलिस ने बदमाशों से बचने के लिए क्षमा दुबे का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन क्षमा ने मदद करने की बजाय बदमाशों को पुलिस की लोकेशन बता दी। रेखा भी बदमाशों की मदद कर रही थी।
8 जुलाई: एसटीएफ ने विकास के करीबी अमर दुबे को मार गिराया। प्रभात मिश्रा समेत 10 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।
9 जुलाई: प्रभात मिश्रा और बऊआ दुबे एनकाउंटर में मारे गए। विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार।

कानपुर शूटआउट से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1. उज्जैन में ऐसे हुई विकास दुबे की गिरफ्तारी : वीआईपी दर्शन के लिए 250 रु की रसीद कटवाई, दर्शन के बाद लौटा और पुलिस से कहा- मैं विकास दुबे, मुझे पकड़ लो

2कानपुर शूटआउट की इनसाइड स्टोरी / सीओ-एसओ की आपसी खींचतान में 8 पुलिसवालों की जान गई, नेताओं से लेकर सीनियर पुलिस अफसर तक सवालों के घेरे में

3. कानपुर शूटआउट: 24 घंटे में 3 एनकाउंटर / विकास दुबे का करीबी प्रभात मिश्रा कानपुर में मारा गया, दूसरा साथी बऊआ दुबे इटावा में ढेर

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

पत्र लिखने वाले एक कांग्रेस नेता ने कहा- ‘किसी को तो बिल्ली के गले में घंटी बांधनी ही थी’

[20-वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के पत्र में हर स्तर पर आंतरिक चुनावों के आधार पर पार्टी नेतृत्व में व्यापक परिवर्तन की मांग की गई है. ...

कोरोना वैक्‍सीन पर चार-चार गुड न्‍यूज, जानिए किससे है सबसे ज्‍यादा उम्‍मीद

[Covid-19 vaccine update: भारत में कोरोना का इलाज/वैक्‍सीन ढूंढने पर रिसर्च जारी है। दिल्‍ली की एक बायोटेक कंपनी ने वायरस बेस्‍ड वैक्‍सीन बनाने...

चीन ने दुनिया के सामने पेश की अपनी पहली कोरोना वैक्सीन, जानिए कब होगी लॉन्च

[पेइचिंगचीन ने दुनिया के सामने अपनी पहली कोरोना वायरस वैक्सीन को पेश किया है। इस वैक्सीन को चीन की सिनोवेक बायोटेक और सिनोफॉर्म...

पीएम मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में सोनिया गांधी ने कहा, ‘हमें अब भी अंधेरे में रखा गया है’

[कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फाइल फोटो).नई दिल्ली: लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों की झड़प के मुद्दे पर पीएम मोदी द्वारा शुक्रवार को...

Ajay Pandita Murder: बेटी ने कहा- कायर आतंकियों सामने आओ, मैं तुम्हें छोडूंगी नहीं

[ Publish Date:Thu, 11 Jun 2020 06:44 AM (IST) जागरण संवाददाता, जम्मू। आंखों में आंसू और दिल में वेदना लिए एक बेटी अपने पिता के...

Vikas Dubey Encounter Live Updates: विकास के पिता बोले-अच्छा किया जो मार दिया, पत्नी और मां ने भी शव लेने से भी किया इनकार

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...