Home मुख्य समाचार अगले साल 9वीं-12वीं के लिए 30% कम होगा सिलेबस, 8वीं तक के...

अगले साल 9वीं-12वीं के लिए 30% कम होगा सिलेबस, 8वीं तक के लिए स्कूल खुद फैसला ले सकेंगे

[

  • विभिन्न स्कूल प्रबंधन, अभिभावकों, राज्यों, शिक्षाविद और शिक्षकों के सुझावों पर फैसला लिया गया
  • इससे पहले CISCE ने भी 10वीं- 12वीं के सिलेबस को 25 फीसदी तक कम करने का ऐलान किया

दैनिक भास्कर

Jul 07, 2020, 06:14 PM IST

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) ने अगले साल के लिए अपने सिलेबस में 30% कटौती का ऐलान कर दिया है। मंगलवार शाम बोर्ड ने ट्विटर पर इस संबंध में एक नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है। इसके तहत नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) से पढ़ाई करवाने वाले 22 राज्यों में 2020-21 एकेडमिक सत्र के लिए 9वीं से 12वीं के कोर्स में एक-तिहाई कमी कर दी है।

इसके लिए NCERT और CBSE बोर्ड के विशेषज्ञों की एक कमेटी ने पाठ्यक्रम में कटौती का खाका तैयार किया और उसके बाद कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए यह फैसला लिया गया। वहीं, 8वीं तक की कक्षाओं के लिए CBSE ने स्कूलों को खुद सिलेबस तैयार करने को कहा है।  

CBSE सर्कुलर के 5 प्रमुख प्वाइंट्स

  1. देश दुनिया के विभिन्न हिस्सों में  में चल रही हेल्थ इमरजेंसी और कोविड -19 महामारी रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद करने से क्लास रूम पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है। इसलिए बोर्ड ने शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए कक्षा 9वीं से 12वीं के लिए सिलेबस को संशोधित करने का निर्णय लिया है।
  2. संबंधित कोर्स कमेटियों ने बोर्ड समिति और गर्वनिंग बॉडी की मंजूरी से मौजूदा असाधारण स्थिति में कोर्स का रिवीजन करना एक उपाय है। इसमें कोर कंसेप्ट को बनाए रखते हुए सिलेबस में सीखने के उद्देश्य को आधार बनाकर तर्कसंगत बदलाव किए गए हैं।
  3. स्कूल प्रमुख और शिक्षक यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि जिन टॉपिक्स  को कम किया गया है, उन्हें छात्रों को विभिन्न विषयों के साथ कनेक्ट करने के लिए जरूरी सीमा तक समझाया जाए। 
  4. नए सत्र के लिए कम किया गया सिलेबस आंतरिक मूल्यांकन और वर्ष के अंत में होने वाली बोर्ड परीक्षा के लिए विषयों का हिस्सा नहीं होगा। वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर और विभिन्न रणनीतियों का उपयोग करके सिलेबस को समझाने के लिए NCERT के इनपुट भी शिक्षण पद्धति का हिस्सा हो सकते हैं। 
  5. पहली से 8वीं तक की प्राथमिक कक्षाओं  के लिए स्कूल NCERT की ओर से जारी वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर और लर्निंग का अनुसरण कर सकते हैं।

केंद्रीय मंत्री निशंक ने ट्विटर पर जानकारी दी

मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को मौजूदा हालात को देखते हुए कोर्स कटौती को लेकर बोर्ड को दी गई सलाह के बारे में ट्वीट किया। इसके कुछ देर बाद CBSE की ओर से कटौती का सर्कुलर जारी कर दिया गया।

CBSE की ओर से 7 जुलाई को जारी किया गया कोर्स कटौती का सर्कुलर। 

सुझावों के आधार पर तैयार की रिपोर्ट 

पाठ्यक्रम घटाने पर काम कर रही कमेटी ने विभिन्न स्कूल प्रबंधन, अभिभावकों, राज्यों, शिक्षाविद और शिक्षकों के सुझावों के आधार पर रिपोर्ट तैयार की है। हालांकि, इस दौरान कमेटी ने इस बात का ख्याल रखा है कि एक पूरा चैप्टर या हटाने की उन टॉपिक्स को हटाया जाए, जो या तो दोहराए गए है या जिसे अन्य अध्यायों के तहत कवर किया जा सकता है।  

CISCE पहले ही कम कर चुका सिलेबस

इससे पहले पिछले हफ्ते, काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने भी अगले एकेडमिक सेशन में 10वीं- 12वीं के सभी प्रमुख विषयों के सिलेबस को 25 फीसदी तक कम करने की घोषणा की थी। इस बारे में बोर्ड ने एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि, “मौजूदा सत्र 2020-21 के दौरान पढ़ाई के समय में होने वाले नुकसान के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है।” 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

देश के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को मिलेगा नवंबर तक मुफ्त राशन : प्रधानमंत्री मोदी

; if (d.getElementById(id)) return; js = d.createElement(s); js.id = id; js.async=true; is_fb_sdk=true; js.src="https://connect.facebook.net/en_GB/sdk.js#xfbml=1&version=v3.2&appId=1652954484952398&autoLogAppEvents=1"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk')); } //comment...

राहुल से बोले मुहम्मद युनूस – कोरोना ने नई नीति का रास्ता खोला, गांव पर जोर जरूरी

https://www.youtube.com/watch?v=f4J7hK_1n1Eकौन हैं मुहम्मद युनूस?बांग्लादेश में गरीबों का मददगार माने जाने वाले मुहम्मद युनूस को नोबेल शांति पुरस्कार मिला था. बांग्लादेश में ग्रामीण बैंक...

UP-बिहार में आकाशीय बिजली से 83 से अधिक की मौत, CM नीतीश कुमार का ऐलान- 4-4 लाख देंगे मुआवजा, PM ने भी जताया दुख

[ बिहार और उत्तर प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से 83 लोगों से अधिक की मौत हुई है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने...

कोरोना की वैक्सीन जल्द मिल भी गई तब भी भारत में टीकाकरण में कम से कम 2 साल लगेंगे: विशेषज्ञ

[Corona Vaccine News: कोरोना के वैक्सीन पर दुनियाभर में तेजी से काम चल रहा है। हालांकि, अगर इस साल वैक्सीन बन भी गई...

सुशांत सिंह राजपूत ने की खुदकुशी: इंजीनियर से डांसर और फिर एक्‍टर बना था यह बिहारी लड़का

https://www.youtube.com/watch?v=KG66j9_VK1Qhttps://www.youtube.com/watch?v=KG66j9_VK1Q> बड़े पर्दे पर  34 वर्षीय ऐक्टर की आखिरी फिल्म नितेश तिवारी निर्देशित ‘‘छिछोरे’’ थी। बता दें कि उनकी मैनेजर 28 वर्षीय दिशा सालियान ने...

मॉडर्ना की कोरोना वैक्‍सीन को बड़ी कामयाबी, वायरस तो रोका ही ट्रांसमिशन भी किया कम

[नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 29 Jul 2020, 07:32:00 AM IST कोरोना वायरस की वैक्‍सीन (Coronavirus vaccine) बंदरों पर हुए ट्रायल में पूरी तरह असरदार...