Home मुख्य समाचार लेह में PM नरेंद्र मोदी की इन तस्वीरों पर उठ रहे सवालों...

लेह में PM नरेंद्र मोदी की इन तस्वीरों पर उठ रहे सवालों में नहीं लगता दम, जानें कारण

[

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लेह आर्मी अस्पताल दौरे की तस्वीरों पर कांग्रेस ने सवालिया निशान लगाए हैं। पार्टी नेताओं ने इसे सोशल मीडिया पर मुद्दा बनाया और फोटो शेयर करते हुए दावा किया कि ड्रामेबाजी और फोटो सेशन के लिए कॉन्फ्रेंस हॉल को हॉस्पिटल वॉर्ड में तब्दील किया गया।

कांग्रेस में नेशनल मीडिया पैनलिस्ट अभिषेक दत्त ने पीएम के कुछ फोटो ट्वीट करते हुए कहा कि यह हॉस्पिटल कहां से लग रहा है? न कोई ड्रिप, डॉक्टर की जगह फोटोग्राफर, बेड के साथ कोई दवाई नहीं, पानी की बोतल नहीं? पर भगवान का शुक्रिया कि हमारे सारे वीर सैनिक एकदम स्वस्थ हैं। भारत माता की जय।

मुख्य विपक्षी दल (केंद्र में) के श्रीवास्तव और सलमान निजामी ने भी इस मुद्दे पर मिलते-जुलते ट्वीट्स किए और एनडीए सरकार पर निशाना साधा। टि्वटर पर और लोगों ने इनके ट्वीट्स रीट्वीट किए, जबकि बहुत सारे लोगों ने प्रश्न उठाते हुए ट्वीट किए।

India-China Border News Live Updates

बहरहाल, लेह में पीएम मोदी की इन तस्वीरों पर लाख सवाल उठें, पर इनमें दम नहीं लगता है। altnews की रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा इसलिए क्योंकि इससे पहले पूर्वी लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे भी इसी वॉर्ड में फौजियों से मिलने 23 जून को पहुंचे थे। उनके दौरे का वीडियो भी उपलब्ध हैः

यह वही वॉर्ड है, जहां हाल में मोदी होकर आए हैं। इसकी पुष्टि वहां लगे पर्दों, फोटो फ्रेम, दीवार पर लगे हुक, दरवाजों, पाइपिंग, पावर बोर्ड और प्रोजेक्टर/स्टेज एरिया आदि से होती है। ये सारी चीजें पीएम के दौरे के दौरान भी वॉर्ड में नजर आई थीं।

इसी बीच, शनिवार को भारतीय सेना की ओर से स्पष्टीकरण में कहा गया, “यह फैसिलिटी 100 बेड्स वाली Crisis Expansion कैपिसिटी का हिस्सा है और यह जनरल हॉस्पिटल कॉम्पलेक्स का हिस्सा है। कोरोना के प्रोटोकॉल की वजह से जनरल हॉस्पिटल के कुछ वॉर्ड्स को आइसोलेशन केंद्रों में तब्दील कर दिया गया है। ऐसे में जो ट्रेनिंग ऑडियो वीडियो हॉल था, उसे वॉर्ड में बदल दिया गया। गलवान से लाए जाने के बाद इन घायल वीर जवानों को यहीं लाया गया था, ताकि इन्हें कोविड वाले क्षेत्रों से दूर रखा जाए। सेनाध्यक्ष जनरल नरवने और आर्मी कमांडर भी घायल जवानों से मिलने इसी लोकेशन पर पहुंचे थे।”

सोशल मीडिया पर एक यूजर ने यह तक कहा कि वॉर्ड असली है, पर ये मरीज नहीं। ये सब बैठे हुए थे। बेड मोदी के पास थे, ताकि वह फ्रेम में अच्छे से आ सकें। ऑक्सीजन टैंक जैसे मेडिकल सामान भी वहां नहीं थे। इस दावे पर मेजर नवदीप सिंह (@SinghNavdeep) ने जवाब दिया- ये जवान वहां गंभीर चोटों का इलाज करने के लिए नहीं लाए गए थे, बल्कि वे स्टैंडर्ड प्रोसेस के तहत वहां ठीक होने और डिब्रीफिंग के लिए लाए गए थे। उन्हें अन्य मरीजों के अलग रखा जाना था, इसलिए हॉस्पिटल के सेमिनार रूम या अन्य बड़े हिस्से को तैयार किया गया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो




सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

माइलेन को मिली रेमडेसिविर को भारत में बनाने और बेचने की अनुमति, जानें कितनी होगी कीमत

[ Publish Date:Tue, 07 Jul 2020 05:08 AM (IST) नई दिल्ली, पीटीआइ। फार्मास्यूटिकल कंपनी माइलेन एनवी ने सोमवार को बताया कि उसे भारतीय औषधि...

भारत को साधने में जुटे नेपाली प्रधानमंत्री, भारतीय सेना प्रमुख की यात्रा से पहले बदला रक्षामंत्री

[हाइलाइट्स:नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के भारत के प्रति अब सुर बदलते द‍िख रहे हैंनेपाली प्रधानमंत्री ने भारतीय सेना प्रमुख की यात्रा...

‘रिटर्न टिकट’ दिखाने के बाद BMC ने पटना SP विनय तिवारी को क्वारनटीन से छोड़ा

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

Rajasthan Govt Crisis Live Update: हाईकोर्ट में सुनवाई कुछ ही देर में होगी शुरू, एसओजी के अधिकारी भी पहुंचे

[Edited By Sambrat Chaturvedi | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 17 Jul 2020, 01:17:00 PM IST हाइलाइट्सराजस्थान हाईकोट की डिवीजन बेंच सचिन पायलट...

ASSOCHAM ने चीन से पीछा छुड़ा आत्मनिर्भर भारत बनने के लिए बताया 15 सूत्रीय एजेंडा

[ASSOCHAM: आत्मनिर्भर भारत को लेकर उद्योग मंडल एसोचैम ने कहा कि हमने 15 ऐसे आयातित वस्तुओं की लिस्ट तैयार की है, जिसे धीरे-धीरे...

Farms Bill: कृषि बिलों के खिलाफ आज सड़क पर उतरेंगे किसान, कांग्रेस-एसपी ने दिया समर्थन

[नई दिल्लीसंसद के दोनों सदनों में पारित कृषि बिलों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन शुक्रवार को और उग्र होने की संभावना है।...