Home मुख्य समाचार दिल्ली-एनसीआर में फिर कांपी धरती, महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके

दिल्ली-एनसीआर में फिर कांपी धरती, महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके

[

Edited By Nityanand Pathak | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

भूकंप के तेज झटकों से हिला दिल्ली-एनसीआर
हाइलाइट्स

  • दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के तेज झटकों के बाद घरों से बाहर निकले लोग
  • दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान प्रदेश में तेज झटके महसूस किए गए
  • भूंकप के बाद किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है

नई दिल्ली

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान प्रदेश में शुक्रवार शाम 7 बजे के आसपास को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। नैशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की रिपोर्ट के अनुसार, गुरुग्राम-हरियाणा के दक्षिण-पश्चिम में 63 किमी की दूरी पर रिक्टर तीव्रता 4.5 थी, जबकि राजस्थान में इसे 4.7 मापा गया। इसका असर दिल्ली-एनसीआर के अलावा हरियाणा और राजस्थान के भी कुछ हिस्सों में महसूस किया गया। भूकंप में आने पर कई इलाकों में लोग अपने घर के बाहर निकल आए और काफी देर तक बाहर ही रुके रहे।

हालांकि, किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। पिछले कुछ समय से आए दिन दिल्ली-एनसीआर समेत देश के विभन्न हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं।

भूकंप आने के कुछ ही देर बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया। उन्होंने उम्मीद जताई की प्रदेश के लोग सुरक्षित हैं। उन्होंने लिखा- कुछ देर पहले दिल्ली में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। उम्मीद है आप सभी सुरक्षित है, अपना ख्याल रखें।

आज ही मिजोरम (Mizoram) में दोपहर 14:35 बजे भूकंप (earthquake) के तेज झटके महसूस किए गए थे। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.6 मापी गई थी। हालांकि भूकंप के कारण अभी तक किसी तरह के जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं मिली है। बीते दो सप्ताह से आए दिन मिजोरम में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं।

धरती हिली: एक दिन में दूसरा, दो महीने में लगभग डेढ़ दर्जन भूकंप

इससे पहले गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में लगातार भूकंप के बाद लद्दाख में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। भूकंप की तीव्रता 4.5 थी। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के कटरा में भी 3.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए।

दो महीने में 14 बार भूकंप के झटके

पिछले दो महीने में दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में 14 बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं। केंद्रीय पृथ्वी एवं विज्ञान मंत्रालय के अनुसार, यह झटके रिक्टर स्केल पर बहुत हल्के थे। हालांकि भूकंप पर शोध करने वाले इन हल्के भूकंप को बड़े खतरे की आहट भी मान रहे हैं।



क्या कहते हैं एक्सपर्ट


-देहरादून में वाडिया इंस्टिट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी के निदेशक डॉ. के सेन ने बताया कि इंडियन प्लेट्स के आंतरिक हिस्से में बसे दिल्ली-एनसीआर में भूकंप का लंबा इतिहास है। हालांकि भूकंप का समय, जगह और तीव्रता का साफ तौर पर अंदाजा नहीं लगाया जा सकता, लेकिन यह साफ है कि एनसीआर क्षेत्र मे लगातार भूकंप के झटके आ रहे हैं, जो राजधानी में बड़े भूकंप की वजह बन सकते हैं।

-भूकंप एक्सपर्ट डॉ. पी पांडे के अनुसार, भूकंप को लेकर कोई पूर्वानुमान नहीं हो सकता, लेकिन इन झटकों के पीछे तीन स्थितियां बन रही हैं। पहला यह है कि इस तरह के छोटे झटके कुछ समय तक लगातार आएंगे और फिर स्थिति सामान्य हो जाएगी। दूसरी स्थिति यह कि लगातार छोटे झटके आएं और फिर एक बड़ा भूकंप, लेकिन इस स्थिति में आमतौर पर पांच से सात छोटे भूकंप के बाद एक बड़ा भूकंप आ जाता है। तीसरी स्थिति यह बन रही है कि दिल्ली एनसीआर में आ रहे यह भूकंप किसी दूर के इलाके में आने वाले बड़े भूकंप के बारे में बता रहे हों। वहीं इस संबंध में भारतीय मौसम विभाग के भूकंप रिस्क असेसमेंट सेंटर ने आगाह किया है कि दिल्ली-एनसीआर में इमारतों के मानक में जल्द से जल्द बदलाव किए जाएं।

NBT

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Ladakh Face Off : यह एक तस्वीर बताती है, भारत ने ऐसा क्या किया कि बौखला गया है चीन

[हाइलाइट्स:पूर्वी लद्दाख की कुछ सामरिक चोटियां होने के कारण बातचीत की टेबल पर चीन का पलड़ा भारी थाभारत ने पासा पलटते हुए पैंगोंग...

Ladakh Standoff: बस गीदड़भभकी? सीमा पर चीनी सैनिकों की तैयारी बयां कर रही कुछ और ही कहानी

[हाइलाइट्स:भारत और चीन के बीच चरम पर पहुंचा तनाव इस बीच, विदेश एस जयशंकर आज रूस में चीनी विदेश मंत्री से करेंगे मुलाकात...

नेपाल: अपनी कुर्सी बचाने के लिए केपी शर्मा ओली ने भारत संग छेड़ा था सीमा विवाद?

[India-Nepal Border Conflict: पिछले महीने भारत और नेपाल के बीच सीमा को लेकर जारी विवाद के दौरान पड़ोसी देश ने आक्रामक तेवर अपना...

नीतीश-लालू की दोस्ती के पक्षधर रहे हैं रघुवंश प्रसाद सिंह! RJD से नाराजगी की ये है 6 बड़ी वजह

https://www.youtube.com/watch?v=U-rslsJW_Xcराज्यसभा नहीं भेजे जाने से भी रही रघुवंश की नाराजगी वर्ष  2019 के लोकसभा चुनाव में आरजेडी की करारी शिकस्त के बाद लगातार  हाशिए...

अलीगंज विधायक के नाम से जारी विधानसभा पास से घूमता था विकास दुबे का साथी जय बाजपेई

[ न्यूज डेस्क, अमर उजाला, एटा Updated Wed, 22 Jul 2020 10:36 PM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249...

LIVE India Coronavirus Updates: 24 घंटे में कोरोना के 10,667 नए मामले, 10,215 मरीज हुए ठीक

[ Publish Date:Tue, 16 Jun 2020 09:54 AM (IST) नई दिल्ली, एजेंसियां। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के सक्रिय मामलों के मुकाबले स्वस्थ...