Home मुख्य समाचार अब अमेरिका ने दिया चीन को झटका, 'ड्रैगन' के खिलाफ लिया ये...

अब अमेरिका ने दिया चीन को झटका, ‘ड्रैगन’ के खिलाफ लिया ये बड़ा एक्शन

[

वॉशिंगटन/नई दिल्ली: दुनिया ने अब चीन (China) के अत्याचार और अतिक्रमण का जवाब देने का मन बना लिया है. भारत  (India) के बाद अब अमेरिका ने चीन को बड़ा झटका दिया है. अमेरिका ने चीन के हांगकांग को लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लाए जाने की घोषणा के बाद अब अमेरिकी मूल अत्याधुनिक रक्षा उपकरणों और तकनीक के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है. 

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (Mike Pompeo) ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि अमेरिका हांगकांग को रक्षा उपकरण और इस्तेमाल में आने वाली सभी तकनीकी के निर्यात पर बैन लगाने जा रहा है. उन्होंने लिखा कि यदि पेइचिंग हांगकांग को एक देश एक समझता है तो हमें भी निश्चित रूप से ये समझना होगा. 

 

 

इससे पहले, हांगकांग के मसले पर अमेरिका की प्रतिक्रिया में चीन ने भी अमेरिका से आने वाले लोगों के वीजा पर पाबंदी लगाने का फैसला किया है. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा था कि चीन ने अमेरिका के कर्मचारियों पर वीजा पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है. वहीं आज अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ट्वीट कर कहा कि चीन के कम्युनिस्ट पार्टी का यूएस वीजा पर प्रतिबंध लगाने की धमकी देना इस बात का ताजा उदाहरण है कि बीजिंग हांगकांग के लोगों से किया वादा तोड़ने के आरोप को नकार रहा है. हम जवाब देने के लिए कदम उठाने से रुकेंगे नहीं. 

 

 

अमेरिका ने शुक्रवार को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था. अमेरिका ने उन पर हांगकांग में मानवाधिकारों और स्वतंत्रता के बुनियादी अधिकारों के हनन का आरोप लगाया था. इसके बाद चीन ने भी हांगकांग संबंधित मुद्दों को लेकर चीनी अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने के अमेरिका के फैसले का कड़ा विरोध जताया था. चीन ने कहा था कि राष्ट्रीय सुरक्षा को बनाए रखने के लिए वह मजबूत कदम उठाता रहेगा. 

चीन के अत्याचारों की उलटी गिनती शुरू
अमेरिका ने दुनिया को ये संदेश दे दिया था कि चीन के अत्याचारों की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है और अमेरिका चीन के विस्तारवादी सोच पर अंकुश लगाने को पूरी तरह से तैयार है. अमेरिका चीन को आर्थिक रूप से अपाहिज करने को तैयार है. बताया जा रहा है कि अमेरिका ने चीन को 60 दिन का नोटिस दिया है जिसका साफ मतलब है कि अब चीन की कंपनियों की मनमानी नहीं चलेगी. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका ने 20 चीनी कंपनियों की पहचान कर उसकी लिस्ट तैयार की है, जिनका कंट्रोल बीजिंग में सैन्य शासन के पास है. चीन की कंपनियों पर अमेरिका से तकनीक लाने का आरोप है. इन कंपनियों पर अमेरिका की नजर है और हो सकता है कि सूची में दर्ज कंपनियों पर अमेरिका में प्रतिबंध भी लगाया जाए. 
 
यानी चीन के लिए अमेरिका का आर्थिक और समरिक चक्रव्यूह तैयार हो चुका है और ये चीन के लिए मुश्किलें बढ़ाने वाला है क्योंकि चीन अपने कारोबार के दम पर ही दुनिया को अपनी धौंस दिखाता आया है और कहते हैं ना पैसा खत्म, तमाशा खत्म. सो अब चीन का खेल खत्म होने वाला है. 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Delhi Earthquake: दिल्‍ली में फिर आया भूकंप, पिछले दो महीने में 14वीं बार लगे झटके

[Delhi earthquake news today: दिल्‍ली-एनसीआर में पिछले दो महीने के भीतर 14वीं बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। बार-बार ऐसा होना...

Ladakh Standoff: भारत में चीनी सामानों के बहिष्कार से बौखलाया चीन, यह चेतावनी

[पूर्वी लद्दाख (Ladakh Standoff) में लाइन ऑफ ऐक्चुअल कंट्रोल (Line of Actual control) पर तनाव अभी भी बरकरार है। सैन्य कमांडरों की बातचीत...

Amarnath Yatra 2020: 21 जुलाई से शुरू होगी वार्षिक अमरनाथ यात्रा, 55 वर्ष से कम उम्र वालों को ही मिलेगी अनुमति

[ Publish Date:Sat, 06 Jun 2020 04:55 PM (IST) श्रीनगर, जेएनएन। बाबा बर्फानी के भक्तों की इंतजार की घड़ी समाप्त हो गई है। उनके लिए...

Bihar Election 2020 Live Updates: एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं! पासवान को कांग्रेस ने दिया ऑफर- महागठबंधन में आना चाहेंगे तो करेंगे विचार

[ Bihar Assembly Election 2020 Live Updates: साल के आखिर में बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं और प्रदेश में राजनीतिक पार्टियां चुनाव जीतने के...

cisce.org , ICSE 10th , ISC 12th Result 2020 LIVE Updates: CISCE कुछ देर में जारी करेगा आईसीएसई 10वीं और आईएससी 12वीं रिजल्ट

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link