Home मुख्य समाचार दुनिया को बहुत जल्द मिलेगी कोरोना की वैक्सीन, अब WHO ने बताई...

दुनिया को बहुत जल्द मिलेगी कोरोना की वैक्सीन, अब WHO ने बताई असलियत

[

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ रही दुनिया के लिए एक अच्छी खबर है. दुनिया को बहुत जल्दी कोरोना वायरस की वैक्सीन यानी टीका मिल सकता है. आप सोच रहे होंगे कि ये तो पहले भी कितनी बार सुन चुके हैं कि कोरोना की वैक्सीन आने वाली है लेकिन अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसकी असलियत बताई है.

इस समय दुनिया भर में COVID-19 से 1 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. ऐसे में लोग घबराए हुए हैं आखिर कब और कैसे इस कोरोना वायरस से छुटकारा मिलेगा. लेकिन अब बहुत जल्द कोरोना से सुरक्षा का कवच मिलने वाला है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक AstraZeneca फार्मा कंपनी की COVID-19 की वैक्सीन ChAdOx1 nCoV-19 जिसे AZD1222 भी कहा जाता है, उसका ट्रायल आखिरी चरण में है. विश्व स्वास्थ्य संगठन में मुख्य वैज्ञानिक के पद पर काम कर रहीं डॉक्टर सौम्या स्वामीनाथन के मुताबिक AZD1222 टीका इंसानों पर ट्रायल के आखिरी चरण में है और बाकी बनाई जा रहीं वैक्सीन के मुकाबले AstraZeneca फार्मा कंपनी सबसे आगे है. इसका ट्रायल ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में चल रहा है. इस टीके को 10,260 लोगों को दिया जाएगा. AZD1222 टीके को ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनेर इंस्टिट्यूट ने बनाया है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एक दूसरी दवा कंपनी Moderna कंपनी कोरोना वैक्सीन mRNA 1273 पर काफी तेजी से काम कर रही है लेकिन फिलहाल AstraZeneca फार्मा कंपनी पर WHO को ज्यादा विश्वास है.

AstraZeneca कंपनी का दावा है कि कोविड-19 वायरस का टीका इस साल के अंत तक बाजार में आ जाएगा. इस साल के अंत तक यूरोप में कोरोना वायरस के टीके की 40 करोड़ डोज की डिलीवरी की जाएगी.

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी बड़ा बयान देते हुए कहा है कि वो दुनिया भर के देशों को कोरोना के 2 अरब से ज्यादा टीके उपलब्ध करवाएगा लेकिन ये अभी तुरंत नहीं होने जा रहा है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक ये टीका 2021 के अंत से पहले दुनिया को मिलेगा.

ये भी पढ़ें- Lockdown के 3 महीने बाद खुले सैलून, बाल काटते वक्त बरती जा रही हैं ये सावधानियां

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस घेब्रेयेसस ने कहा कि ये बात तो साफ है कि कोरोना को नियंत्रित करने और लोगों के जीवन को बचाने के लिए प्रभावी वैक्सीन की जरूरत है जो कि बहुत ज्यादा तेजी और बहुत बड़ी संख्या में चाहिए होगी. यह स्पष्ट है कि सभी लोगों को COVID-19 से खतरा है इसीलिए सभी लोगों की पहुंच इसे रोकने, पता लगाने और उपचार करने के लिए सभी उपकरणों तक होनी चाहिए, ना कि केवल उन लोगों के पास इसकी पहुंच हो जो वैक्सीन के लिए पैसे चुका सकते हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के ये बयान कोरोना से युद्ध में नई उम्मीद और नई शक्ति की तरह हैं. अगर सब कुछ ठीक रहा तो बहुत जल्द दुनिया को कोरोना वायरस का टीका मिलेगा. एक ऐसा कवच जिससे धारण करने के बाद कोरोना हार जाएगा.

ये वीडियो भी देखें-

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

उत्तराखंड: हाईकोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को दिया झटका, अब बाजार मूल्य से चुकाना होगा किराया

[ ख़बर सुनें ख़बर सुनें उत्तराखंड हाईकोर्ट ने मंगलवार को अपने निर्णय में पूर्व मुख्यमंत्रियों को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्रियों...

राफेल उड़ाने वाले भारत के पहले पायलट बने कश्मीर के हिलाल अहमद राथर, जानें कौन हैं

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

Bigg Boss 14: खत्म हुआ ग्रैंड प्रीमियर, जानें किन की हुई बिग बॉस के घर में एंट्री, कौन हुए रिजेक्ट

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

चीन का झूठ बेनकाब, देखिए कैसे भाले और बंदूक लेकर आए थे 50 चीनी सैनिक, भारतीय सेना के रोकने पर की थी फायरिंग

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

पहले 107 दिन में मिले 85 हजार संक्रमित, अब 24 घंटे में ही 86 हजार से ज्यादा मरीज

[देश में कोरोना का प्रकोप बेकाबू हो चुका है। पहले 85 हजार लोगों में वायरस मिलने में 107 दिन का वक्त लगा था...