Home मुख्य समाचार Monsoon 2020: दिल्ली-NCR में आया सावन झूम के, नोएडा में भी झमाझम...

Monsoon 2020: दिल्ली-NCR में आया सावन झूम के, नोएडा में भी झमाझम बारिश

[

Monsoon update 2020, Delhi-NCR weather news: मौसम विभाग ने दिल्ली में मानसून आने की घोषणा कर दी है। गुरुवार को दिल्ली-एनसीआर के कुछ स्थानों पर भारी बारिश का भी अनुमान जताया गया है।

Edited By Deepak Verma | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

Monsoon 2020: दिल्ली-NCR में आया सावन झूम के, नोएडा में भी झमाझम बारिश
हाइलाइट्स

  • मॉनसून 2020 के दिल्‍ली पहुंचने का ऐलान, शुरू होगा झमाझम बारिश का सिलसिला
  • मौसम विभाग ने की है बादल छाए रहने की भविष्‍यवाणी, दिल्‍ली के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी
  • साउथवेस्‍ट मॉनसून को जल्‍द मिलने वाला है बूस्‍ट, एक खास घटना हो सकती है
  • ऑस्‍ट्रेलियन ब्‍यूरो ऑफ मीटरोलॉजी ने बढ़ाई ला नीना के आने की संभावना

नई दिल्‍ली

आखिरकार दिल्ली-एनसीआर में मॉनसून ने दस्तक दे ही दी। राजधानी हवाओं के राजधानी में पहुंचने के साथ ही झमाझम बारिश शुरू हो गई और तापमान में गिरावट दर्ज की गई। पिछले कुछ दिनों राजधानी में मॉनसून के पहले की बारिश जारी थी लेकिन आज हुई बारिश ने राजधानी-NCR को तर-बतर कर दिया है। मौसम विभाग ने कहा है कि इस बार दिल्ली में ज्यादा बारिश होगी। बता दे कि पिछले साल राजधानी में अनुमान से कम बारिश हुई थी।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने राष्ट्रीय राजधानी में मॉनसून के आने का ऐलान कर दिया है। IMD के रीजनल फोरकास्‍ट सेंटर के चीफ कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि मॉनसून पश्चिमी और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों, हरियाणा के पूर्वी हिस्से, दिल्ली, पूरे उत्तर प्रदेश और पंजाब के ज्यादातर हिस्सों तक गुरुवार को पहुंच गया। उन्होंने बताया, ‘मॉनसून नागौर, अलवर, दिल्ली, करनाल और फिरोजपुर से होकर उत्तर की ओर बढ़ गया है।” मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी के कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान जताया है। एक्‍सपर्ट्स के मुताबिक, चक्रवातीय दबाव के कारण दिल्ली में मॉनसून समय से पहले पहुंच गया है। दूसरी तरफ, साउथवेस्‍ट मॉनसून को एक बड़ा बूस्‍ट मिल सकता है। प्रशांत महासागर में ला नीना के बनने की संभावना बढ़ गई है। ऑस्‍ट्रेलियन ब्‍यूरो ऑफ मीटरोलॉजी ने इस बारे में अपडेट जारी किया है।

राजस्थान में मॉनसून और आगे बढ़ा, 27 जिलों में बारिश

राजस्थान में तय समय से एक दिन पहले दक्षिण-पश्चिम मॉनसून पहुंच गया है। गुरुवार को राज्य के कई और जिलों में बारिश हुई। मॉनसून के पहले दो दिन में ही राज्य के 33 में 27 जिलों में बारिश हो चुकी है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मॉनसून के और कुछ भागों में आगे बढ़ने की संभावना बहुत प्रबल है। मॉनसून ने दो दिन में राजस्थान के 27 जिलों में प्रवेश कर लिया है। मानसून से पश्चिमी राजस्थान के छह जिलों बाड़मेर, जालोर, पाली, जोधपुर, जैसलमेर, नागौर और पूर्वी राजस्थान के 21 जिलों सिरोही, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, झालावाड़, कोटा, बून्दी, बारां , भीलवाड़ा, टोंक, सवाईमाधोपुर, अजमेर, जयपुर, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, करौली और अलवर में बारिश हुई है। अब पश्चिमी राजस्थान के चार जिलों बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू और पूर्वी राजस्थान के दो जिलों झुंझुनूं और सीकर में मानसून का पहुंचना बाकी है।

NBT

देखिए कहां पहुंचा साउथवेस्‍ट मॉनसून। (फोटो: IMD)

दिल्ली और आसपास के इलाकों में होगी बारिश

दिल्‍ली के आसमान पर मॉनसून के बादल छाए हुए हैं। गुरुवार को दिनभर ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है। इस दौरान मैक्सिमम टेम्‍प्रेचर 36 डिग्री सेल्सियस और मिनिमम टेम्‍प्रेचर 28 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है।अगले कुछ दिन, दिल्‍ली-एनसीआर में मॉनसून की आमद के साथ ही भारी बारिश का अनुमान है। पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के कई हिस्‍सों में भी अगले दो दिन बारिश होने की संभावना जताई गई है। कुछ जगहों पर भारी बारिश भी हो सकती है।

NBT

दिल्‍ली में बारिश का मौसम।

असम में बाढ़, साउथ इंडिया में भी बारिश

असम के पांच जिलों में बाढ़ आ गई है। करीब 38 हजार लोग प्रभावित हुए हैं। डिब्रूगढ़, जोरहाट, मजुली, धेमाजी और शिवसागर जिलों में अब तक 12 लोगों की मौत हो चुकी है। केरल और नजदीकी दक्षिणी राज्‍यों में के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इस साल मॉनसून में 96 पर्सेंट से लेकर 104 पर्सेंट बारिश होने का अनुमान है।

ला नीना के बनने की पॉसिबिलिटी 50-50

ऑस्‍ट्रेलियन ब्‍यूरो ऑफ मीटरोलॉजी ने ला नीना के बनने की संभावना 50 पर्सेंट कर दी है। यह किसी भी साल में ला नीना आने की संभावना का दोगुना है। इससे किसानों और पॉलिसीमेकर्स के लिए अच्‍छी खबर के रूप में देखा जा रहा है। प्रशांत महासागर के सतही पानी के ठंडे होने पर ला नीना बनता है। IMD ने भी पहले भविष्‍यवाणी की थी कि आधा मॉनसून गुजर जाने पर एक हल्‍का ला नीना बनेगा। अच्‍छे मॉनसून से ग्रामीण इलाकों की आय बढ़ती है।

Web Title southwest monsoon arrival in delhi weather forecast by imd in hindi(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

जब भी मैं सम्भोग करने के बाद पेशाब करती हूं, तो मुझे जलन होती है, क्या करूं?

मैं 43 साल की महिला हूं। पिछले दिनों से जब भी मैं सेक्स करने के बादपेशाब करती हूं, तो मुझे जलन का...

Coronavirus in India Live Updates: असम में 145 और मुंबई में 1540 नए मामले

; if (d.getElementById(id)) return; js = d.createElement(s); js.id = id; js.async=true; is_fb_sdk=true; js.src="https://connect.facebook.net/en_GB/sdk.js#xfbml=1&version=v3.2&appId=1652954484952398&autoLogAppEvents=1"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk')); } //comment...

गर्लफ्रेंड से बात करता हूं तो स्पर्म निकल आते हैं

सवाल: मैं अपनी गर्लफ्रेंड से जब भी फोन पर या आमने-सामने बात करता हूं तो धीरे-धीरे मेरा स्पर्म निकलने लगता है। इससे मुझे...

क्या प्रेगनेंट होने के लिए महिला का क्लाइमैक्स तक पहुंचना जरूरी है?

सवाल: क्या कोई महिला बिना क्लाइमैक्स के प्रेग्नेंट नहीं हो सकती?- एक पाठक जवाब:प्रेग्नेंसी के लिए यह कतई भी जरूरी...

चीन से तनातनी के बीच पूर्वी लद्दाख के हालात पर आर्मी चीफ की टॉप कमांडरों से चर्चा

https://www.youtube.com/watch?v=2X_AeaHPi5w !function(f,b,e,v,n,t,s){if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version='2.0';n.queue=;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

अपनी टीचर के प्रति आकर्षित हो रहा हूं, वह सिंगल हैं, क्या मुझे आगे बढ़ना चाहिए?

मैं ग्रेजुएशन का स्टूडेंट हूं और फाइनल इयर में पढ़ाई कर रहा हूं। पिछले कुछ समय से मेरा अपनी एक टीचर के...