Home मुख्य समाचार दिल्ली ने चीन को दिया बहुत बड़ा झटका, दुश्मन देश ने ऐसा...

दिल्ली ने चीन को दिया बहुत बड़ा झटका, दुश्मन देश ने ऐसा सपने में भी नहीं सोचा होगा

[

नई दिल्ली: कनफेडेरशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के चीनी सामान बहिष्कार की मांग पर आज दिल्ली के बजट होटलों  के संगठन दिल्ली होटल एन्ड गेस्ट हाउस ओनर्स एसोसिएशन (धुर्वा)  ने एक बड़ा फैसला लिया है. चीन की नापाक हरकतों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि दिल्ली के होटल तथा गेस्ट हाउस में अब से किसी भी चीनी व्यक्ति को ठहराया नहीं जाएगा. दिल्ली में लगभग 3000 बजट होटल और गेस्ट हाउस हैं जिनमें लगभग 75 हजार कमरे हैं.

दिल्ली होटल एवं गेस्ट हाउस ओनर्स एसोसियशन के महामंत्री श्री महेंद्र गुप्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि चीन जिस प्रकार से भारत के साथ व्यवहार कर रहा है और उसने जिस तरीके से भारीतय सैनिकों की नृशंस हत्या की है, उस कारण से दिल्ली के सभी होटल व्यवसायिओं में बेहद गुस्सा है. ऐसे समय में जब कैट ने देश भर में चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का अभियान चलाया है, उसमें दिल्ली के होटल और गेस्ट हाउस व्यवसायी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेंगे. इसे ही देखते हुए हमने यह फैसला किया है कि अब से दिल्ली के किसी भी बजट होटल अथवा गेस्ट हाउस में किसी भी चीनी व्यक्ति को ठहराया नहीं जाएगा.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार ने लिए हैं 5 अहम फैसले, करोड़ों भारतीयों को मिलेगा जबर्दस्त फायदा

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री श्री प्रवीन खंडेलवाल ने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि इससे यह स्पष्ट है कि कैट द्वारा शुरू किया गया चीनी वस्तुओं के बहिष्कार की मांग से देश के विभिन्न वर्गों के लोग जुड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि इसी सिलसिले में कैट अब ट्रांसपोर्ट, किसान, हॉकर्स, लघु उद्योग, उपभोक्ता स्वयं उद्यमी, महिला उद्यमी के राष्ट्रीय संगठनों से संपर्क कर उन्हें भी इस अभियान से जोड़ेगा.

ये भी देखें-

वहीं, दूसरी ओर कैट देश के मीडिया वर्ग, प्राइवेट संस्थानों के अधिकारी एवं कर्मचारी, शिक्षक वर्ग, आईएइस एवं आईपीएस अधिकारी, आईआरएस, इंडियन फॉरेस्ट सर्विस के अधिकारी, सरकारी कर्मचारी, धर्मगुरु, मोटिवेशनल स्पीकर्स, सेवानिवृत जज एवं न्यायिक अधिकारी, चार्टर्ड अकाउंटेंट, कम्पनी सेक्रेटरी, सेवानिवृत अधिकारी, सेनाओं के सेवानिवृत अधिकारी, देश भर में काम कर रहे पुलिसकर्मी, सेवानिवृत पुलिसकर्मी, सीआरपीएफ, आईटीबीपी जैसी पैरा मिलिट्री फोर्स के कार्यरत एवं सेवानिवृत अधिकारी, रेजिडेंट वेलफेयर एसोसियशन एवं अन्य अनेक वर्गों के संगठनों से संपर्क कर उन्हें भी इस अभियान से जोड़ेगा. ‘भारतीय सामान-हमारा अभिमान’ के राष्ट्रीय अभियान के अंतर्गत चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अभियान को और तेजी के साथ देश भर में चलाएगा.

उन्होंने कहा कि इस बार चीन को सबक सिखाने में भारत के लोग दृढ़ संकल्प से जुड़ेंगे और दिसंबर 2021 तक चीन से आयात होने वाले सामान में 1 लाख करोड़ रुपये की कमी करेंगे और वो 1 लाख करोड़ रूपये भारत की अर्थव्यवस्था में लगेगा.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

इसी साल मिलेगी खुशखबरी? चीन का दावा- नवंबर तक आम लोगों के इस्तेमाल के लिए उपलब्ध होगी कोरोना वायरस वैक्सीन

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

कोरोना: गृह मंत्री शाह के साथ मीटिंग से पहले दिल्ली के उप-राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नए फरमान

[Edited By Dil Prakash | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 14 Jun 2020, 12:11:00 AM IST फाइल फोटोहाइलाइट्सदिल्ली में आज कोरोना के 2134...

नोएडा में भूकंप का झटका, रिक्‍टर स्‍केल पर तीव्रता 3.2, घरों से बाहर निकल आए लोग

[लॉकडाउन के दौरान राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आने वाला ये नौवां भूकंप है। इससे पहले 29 मई को भी दिल्ली-एनसीआर में भूकंप महसूस...

जानिए कैसे हुआ 4000 करोड़ रुपये का पोंजी घोटाला, जिसके आरोपी IAS ने कर ली खुदकुशी

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link

कानपुर एनकाउंटर: विकास दुबे को थाने से मिली थी मुखबिरी? एसओ से पूछताछ

[Edited By Shefali Srivastava | नवभारत टाइम्स | Updated: 04 Jul 2020, 08:59:00 AM IST Kanpur Police Encounter: विकास दूबे के...

मुझे शुगर है क्या पिता नहीं बन पाऊंगा?

सवाल: 29 साल का हूं। मेरी शादी नहीं हुई है। मुझे शुगर है। अगर मैं शादी करूं तो क्या मैं पिता बन सकता...