Home मुख्य समाचार कोरोनिल: बाबा रामदेव पर केस दर्ज कराएगी राजस्थान सरकार

कोरोनिल: बाबा रामदेव पर केस दर्ज कराएगी राजस्थान सरकार

[

  • पतंजलि के दावे के बाद हरकत में आई सरकार
  • कहा- बिना परमिशन किया गया है ट्रायल

राजस्थान सरकार ने बाबा रामदेव के कोरोना की दवा कोरोनिल खोजने के दावे को फ्रॉड करार दिया है. राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा का कहना है कि महामारी के समय बाबा रामदेव ने इस तरह से कोरोना की दवा बेचने की कोशिश की है, जो अच्छी बात नहीं है.

स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि आयुष मंत्रालय के गजट नोटिफिकेशन के अनुसार बाबा रामदेव को आईसीएमआर और राजस्थान सरकार से किसी भी कोरोना की आयुर्वेद दवा की ट्रायल के लिए परमिशन लेनी चाहिए थी, मगर बिना परमिशन के और बिना किसी मापदंड के ट्रायल का दावा किया गया है, जो कि गलत है.

रघु शर्मा ने कहा कि हम कानूनी कार्रवाई करेंगे और हमारे एक डॉक्टर ने मुकदमा दर्ज कराया है उस मुकदमे के तहत भी करवाई करवाएंगे. उधर नेम्स विश्वविद्यालय में गुना कैंट को लेकर जाने वाले जयपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी का कहना है कि मैं वहां पर इंचार्ज था और वहां पर किसी तरह की कोई दवा की ट्रायल के लिए हमसे इजाजत नहीं ली गई.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि हमने कोई ट्रायल होते हुए भी नहीं देखा है. वहां पर जितने मरीज हमने भर्ती कराए थे, वह बिना लक्षण वाले थे. किसी में बुखार, खांसी या गले की खराश नहीं था. ऐसे सभी मरीज 7 से 10 दिन में ठीक हुए हैं और दूसरी जगह पर ऐसे बिना लक्षण वाले मरीजों को रखा था, वहां भी इतने ही दिन में ठीक हुए हैं.

सरकार की हरी झंडी के बिना नहीं बिक सकेगी कोरोनिल, मंत्री बोले-नहीं ली थी मंजूरी

दरअसल, पतंजलि रिसर्च फाउंडेशन ट्रस्ट की ओर से आयुष मंत्रालय को बताया गया कि ये क्लीनिकल ट्रायल जयपुर के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च (निम्स) में किया गया था. दावा किया गया कि उन्होंने हर नियम का पालन किया है, साथ ही आयुर्वेदिक साइंस सेंट्रल काउंसिल के डीजी को लूप में रखा था.

पतंजलि की कोरोना वायरस की दवा ‘कोरोनिल’ पर कहां फंस गया पेच

कोरोनिल पर सवाल उठने के बाद आयुष मंत्रालय में पतंजलि की ओर से जो रिसर्च पेपर दाखिल किया गया है, उसके अनुसार कोरोनिल का क्लीनिकल टेस्ट 120 ऐसे मरीजों पर किया गया है, जिनमें कोरोना वायरस के लक्षण काफी कम थे. इन मरीजों की उम्र 15 से 80 साल के बीच थी.

कोरोना की दवा वाले पतंजलि के दावे से ICMR-आयुष मंत्रालय ने झाड़ा पल्ला

अब निम्स में ट्रायल की बात सामने आने के बाद राजस्थान सरकार हरकत में आ गई है और उसका कहना है कि पतंजलि ने कोई परमिशन नहीं ली थी. सरकार का दावा है कि निम्स में किसी भी मरीज की रिपोर्ट तीन दिन में नहीं आती है और जिन मरीजों पर ट्रायल किया गया, वह उसी दिन निगेटिव हो जाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android IOS

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Questions on Vikash Dubey Enocunter : विकास दुबे का एनकाउंटर फर्जी बता तहसीन पूनावाला ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में की शिकायत

[Vikash Dubey Encounter : तहसीन पूनावाला ने विकास दुबे के एनकाउंटर को नेताओं, यूपी सरकार और पुलिस के आला अफसरों की करतूतों पर...

UNHRC में भारत का पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब, कश्मीर मुद्दा उठाने पर कहा, ‘अपने गिरेबान में झांको’

[India in UNHRC: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ कश्मीर का मुद्दा उठाया। इस पर भारत ने पाकिस्तान से...

Jharkhand Coronavirus News: झारखंड में खतरनाक होने लगा कोरोना, आज 80 नए मामले, 5 मौत; जानें ताजा हाल

[ Publish Date:Mon, 13 Jul 2020 05:04 AM (IST) रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। Coronavirus Jharkhand News Update झारखंड में कोरोना वायरस सामुदायिक संक्रमण के खतरनाक...

उज्जैन आने से पहले दो दिन नोएडा में छिपा था विकास दुबे, सरेंडर करने को पुलिस से किया था 3 बार संपर्क!

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

India Coronavirus Updates: दिल्ली में 62 हजार से ज्यादा कुल संक्रमित, देश में 14011 की गई जान

[ नई दिल्ली, एजेंसियां। दुनिया की दूसरी सहसे ज्यादा आबादी बाले भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 4.40 लाख के पार...