Home मुख्य समाचार जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में दो आतंकी ढेर, मुठभेड़ में घायल हुए CRPF जवान...

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में दो आतंकी ढेर, मुठभेड़ में घायल हुए CRPF जवान ने अस्पताल में दम तोड़ा

[

जम्मू कश्मीर के पुलवामा के बंदजू गांव में आतंकियों के साथ मुठभेड़ करते भारतीय जवान. (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में इस साल आतंकियों (Terrorist) की शामत आ चुकी है.बीते 17 दिनों में 32 आतंकी मारे जा चुके हैं, वहीं इस साल सुरक्षाबलों (Indian security force) ने कश्मीर में 107 आतंकियों को मार गिराया है.

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) में मंगलवार की सुबह एक बार फिर भारतीय सुरक्षाबलों (Indian security force) और आतंकियों (Terrorist) के बीच मुठभेड़ हो गई. मुठभेड़ में अब तक दो आतंकी मारे जा चुके हैं जबकि एक भारतीय जवान गंभीर रूप से घायल बताया जा रहा है. भारतीय सुरक्षाबलों ने अभी भी पूरे इलाके को घेर रखा है और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. खबर है कि अभी भी कई आतंकी इलाके में छुपे हुए हैं.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भारतीय सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि कुछ आतंकी पुलवामा के बंदजू गांव में छुपे हुए हैं और किसी बड़े हमले की साजिश रच रहे हैं. खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलों ने स्थानीय पुलिस और सीआरपीएफ के साथ मिलकर एक संयुक्त टीम तैयार की और बंदजू गांव को घेर लिया. गांव में जैसे ही सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया वैसे ही आतंकी एक घर में छुपकर फायरिंग करने लगे.

गोली चलने की आवाज सुनते ही भारतीय जवानों ने भी फायरिंग शुरू कर दी. काफी देर तक दोनों ओर से चली फायरिंग में दो आतंकियों को मार गिराया गया. क्रॉस फायरिंग में एक सीआरपीएफ का जवान घायल हो गया. घायल जवान को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है. बता दें कि दो दिन पहले जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के जादिबल इलाके में मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए थे.

इसे भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की शामत, अकेले इस साल हुआ 101 का सफ़ाया17 दिन में 32 आतंकी मार गिराए गए
जम्मू-कश्मीर में इस साल आतंकियों की शामत आ चुकी है.बीते 17 दिनों में 32 आतंकी मारे जा चुके हैं, वहीं इस साल सुरक्षाबलों ने कश्मीर में 107 आतंकियों को मार गिराया है. खबर है कि भारतीय सुरक्षाबलों ने दक्षिण कश्मीर में 125 और आतंकियों को मार गिराने की योजना तैयार की है. इन आतंकवादियों में 25 विदेशी भी शामिल हैं. घाटी में इस साल सबसे अधिक आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन सक्रिय रहा. सुरक्षाबलों ने हिजबुल के 35 स्‍थानीय आतंकियों को मौत के घाट उतारा है.



First published: June 23, 2020, 6:51 AM IST

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

गृहमंत्री अमित शाह की राहुल गांधी को चुनौती- हो जाएंगे 1962 से आज तक दो-दो हाथ

[अमित शाह ने कोरोना पर मनीष सिसोदिया के बयान से भय फैल गया.नई दिल्ली : गृहमंत्री अमित शाह ने लद्दाख में हुई घटना...

एक नहीं दो बार दाऊद इब्राहिम से मिले थे ऋषि कपूर, दूसरी बार नीतू कपूर भी थीं साथ

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source link

दिल्ली में कोरोना का खौफ: दो महीने में पहली बार नए केस के मामले में मुंबई से आगे निकली दिल्ली

[Edited By Satyakam Abhishek | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 05 Jun 2020, 11:18:00 AM IST दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ेहाइलाइट्सदिल्ली में...

LAC पर खूनी टकराव को लेकर संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता, भारत-चीन से संयम बरतने को कहा

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

गलवां घाटी में उस रात क्यों हुई थी हिंसक झड़प, वीके सिंह ने किया रहस्यमय दावा

[पूर्वी लद्दाख के गलवां घाटी में भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प की वजह को लेकर पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह ने नया दावा किया...