Home मुख्य समाचार निजी स्कूलों की सामूहिक धमकी, 10 जुलाई तक फीस नहीं भरी तो...

निजी स्कूलों की सामूहिक धमकी, 10 जुलाई तक फीस नहीं भरी तो काट देंगे बच्चों का नाम

[

हरियाणा के दादरी में निजी स्कूलों ने चेतावनी दी है कि 10 जुलाई तक फीस नहीं जमा करने वाले बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं बंद कर दी जाएंगी और उनके नाम स्कूल से काट दिए जाएंगे। निजी स्कूलों ने सरकार को भी चेतावनी दी है कि 10 जुलाई के बाद प्रदेश भर में बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Edited By Shivam Bhatt | भाषा | Updated:

हाइलाइट्स

  • हरियाणा के दादरी में निजी स्कूलों की चेतावनी, 10 जुलाई तक फीस भरें पैरंट्स
  • फीस न भरने पर नाम काटने की धमकी, कोई दूसरा स्कूल दाखिला भी नहीं देगा
  • निजी स्कूलों की सरकार को चेतावनी, 10 जुलाई के बाद प्रदेशभर में बड़ा आंदोलन

भिवानी

हरियाणा के दादरी में निजी स्कूलों ने चेतावनी दी है कि 10 जुलाई तक फीस नहीं जमा करने वाले बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं बंद कर दी जाएंगी और उनके नाम स्कूल से काट दिए जाएंगे। साथ ही कोई दूसरा निजी स्कूल ऐसे बच्चों का दाखिला भी नहीं करेगा। निजी स्कूल संचालकों की दादरी में हुई बैठक में फैसला किया गया है कि उनकी मांगों पर विचार नहीं होने पर आंदोलन की शुरूआत की जाएगी।

दादरी के एक निजी स्कूल में प्राइवेट स्कूल वेलफेयर असोसिएशन के जिला अध्यक्ष इंद्रजीत फोगाट की अध्यक्षता में कार्यकारिणी की बैठक हुई। बैठक में निजी स्कूल संचालकों ने अभिभावकों से बच्चों की ट्यूशन फीस देने का आग्रह किया। साथ ही सरकार से भी मांग की है कि ऐसा आदेश जारी करें ताकि बच्चों की ट्यूशन फीस समय पर मिल सकें और स्कूल संचालकों के लगातार हो रहे खर्चे और शिक्षकों के वेतन समेत अन्य पेमेंट किए जा सकें।



सरकार को चेतावनी, …तो 10 जुलाई के बाद बड़ा आंदोलन


उन्होंने कहा कि सरकार अगर निजी स्कूलों का सहयोग न करेगी तो सभी स्कूल मिलकर 10 जुलाई के बाद से फीस जमा नहीं करवाने वाले बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं पूरी तरह बंद कर देंगे। उन्होंने कहा कि 10 जुलाई तक अगर अभिभावक फीस जमा नहीं करवाते हैं तो सभी स्कूल ऐसे बच्चों का सामूहिक रूप से स्कूलों से नाम काट देंगे। निजी स्कूलों ने सरकार को चेतावनी दी कि 10 जुलाई के बाद प्रदेश भर में बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Web Title private school association asked parents to submit fees of their wards by 10 july or face action(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

कोरोना क्या है, कोरोना की स्टेज क्या होती हैं? बारीकी से समझिए

(नीचे नाम एवं पद काल्पनिक है) पहली स्टेज 1⃣ विदेश से दिनेश आया। एयरपोर्ट...

School Reopen Guidelines: 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों को खोलने पर फैसला कर सकेंगे राज्य, माता-पिता की मंजूरी जरूरी

[नई दिल्लीकेंद्र सरकार ने बुधवार को अनलॉक 5.0 की गाइडलाइन्स (school reopen guidelines in hindi) जारी कर दी। इसके तहत, स्कूलों, कोचिंग इंस्टीट्यूट...

LAC : मीटिंग के एक हफ्ते बाद भी पीछे नहीं गए चीनी सैनिक, भारत भी निगरानी से लेकर युद्ध की नौबत तक के लिए तैयार

[सैनिकों को पीछे नहीं कर रहा चीन।हाइलाइट्सLAC पर 9 जुलाई के बाद से हालात जस के तस बने हैंकोर कमांडर मीटिंग में दिया...

सोनिया गांधी के दूसरे कार्यकाल का पहला साल: लीडरशिप नहीं राहुल की टीम के लिए चुनौती

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...