Home मुख्य समाचार चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद LAC पर हथ‍ियारों...

चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद LAC पर हथ‍ियारों के इस्तेमाल को लेकर सेना ने बदले नियम

[

चीनी सैनिकों के साथ झड़प के बाद LAC पर हथ‍ियारों के इस्तेमाल को लेकर सेना ने बदले नियम.

नई दिल्ली:

लद्दाख के गलवान घाटी (Ladakh’s Galwan Valley) में चीनी सेना के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद सेना ने LAC (वास्तविक नियंत्रण रेखा) पर होने वाले ऐसे टकरावों के मद्देनजर नियमों में बदलाव किया है. नियम बदले जाने के बाद फील्ड कमांडर ही ‘असाधारण’ परिस्थितियों में आग्नेयास्त्रों के उपयोग को मंजूरी दे सकेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले भी कहा था कि सेना को जमीनी स्थिति से निपटने के लिए पूरी छूट दी गई है.

यह भी पढ़ें

दोनों सेनाओं के बीच 1996 और 2005 में हुए समझौते के प्रावधानों के अनुसार टकराव के दौरान आग्नेयास्त्रों का इस्तेमाल नहीं करने पर सहमति बनी थी. उस समय दोनों देशों ने एलएसी के दोनों ओर दो किलोमीटर के भीतर विस्फोटकों या आग्नेयास्त्रों का उपयोग नहीं करने पर भी सहमति व्यक्त की थी. दशकों पुराने नियमों में बदलाव पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के एक हफ्ते से भी कम समय के बाद हुआ है, जिसमें 20 भारतीय जवानों की जान चली गई थी. 

सेना ने हाल ही  में बताया था कि गलवान घाटी (Galwan Valley) में चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना का कोई भी जवान अब गंभीर रूप से घायल नहीं है और सबकी हालत स्थिर है. सेना के अधिकारियों ने बताया था, ‘हमारे सभी जवानों की हालत ठीक है और कोई भी सैनिक गंभीर नहीं है. लेह के अस्पताल में हमारे 18 जवान हैं और वह 15 दिन के भीतर ही ड्यूटी ज्वाइन कर लेंगे. इसके अलावा 56 जवान दूसरे अस्पतालों में हैं, जो मामूली तौर पर घायल हैं और वह एक हफ्ते भर के भीतर ही ड्यूटी पर लौट आएंगे.

बता दें कि 15 जून की शाम को बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू ने चीन के कमांडिंग ऑफिसर से समझौते का पालन करने को कहा और गलवान नदी के पास जगह को खाली करने को कहा. इस पर चीनी सेना का बर्ताव बहुत ही आक्रामक था. उन्होंने फौरन भारी संख्या में हमला बोल दिया और पत्थरबाजी शुरू कर दी और आयरन रॉड से मारना शुरू कर दिया. इस दौरान चीनी सैनिकों के डंडे पर बंधे कटीली तारों का भी इस्तेमाल किया, जिसमें कर्नल समेत सेना के 20 जवानों की जान चली गई.

चीन के कितने सैनिक मारे गए या घायल हुए इसकी जानकारी न तो सेना ने दी और न ही सरकार ने. हालांकि NDTV को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस दौरान चीन के करीब 45 सैनिक भी मारे गए.  

VIDEO: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

नेपाल में कोरोना के लिए पीएम ओली ने भारत को बताया जिम्मेदार, बोले- 85 फीसदी केस वहीं से आए

[Edited By Priyesh Mishra | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 10 Jun 2020, 12:52:00 PM IST भारत और नेपाल के बीच क्या है...

500 अरब डॉलर के पार विदेशी मुद्रा भंडार: तीन दशक में शून्य से शिखर तक कैसे पहुंचा भारत

[भारत का फॉरेक्स रिजर्व 500 अरब डॉलर के पार।हाइलाइट्सभारत ने विदेशी मुद्रा भंडार के मामले में नई मंजिल तय कर ली है इतिहास...

पाकिस्‍तान के बड़बोले रेल मंत्री शेख राशिद कोरोना वायरस पॉजिटिव

[Edited By Shailesh Shukla | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 08 Jun 2020, 02:38:00 PM IST पाकिस्‍तानी रेल मंत्री शेख राशिद कोरोना पॉजिटिवहाइलाइट्सपाकिस्तान...

हार्ले डेविडसन की सुपरबाइक पर नजर आए सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश एसए बोबडे, ट्विटर पर हलचल

[हार्ले डेविडसन की सुपरबाइक पर नजर आए CJI बोबडे.खास बातेंसीजेआई बोबडे की नई तस्वीर की चर्चा हार्ले डेविडसन की बाइक पर बैठे आए नजर बाइक्स...

कोरोना: साढ़े आठ लाख के करीब पहुंचा आंकड़ा, कई शहरों में फिर लग सकता है लॉकडाउन

[Coronavirus Update India: देश में कोरोना वायरस के केसेज साढ़े आठ लाख का आंकड़ा पूरा करने वाले हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक,...

दिल्ली में कोरोना: अरविंद केजरीवाल ने बताया, होम आइसोलेशन वालों को मिलेगा ऑक्सीजन पल्स मीटर

[दिल्ली में कोरोना वायरस (corona in delhi) के सीरियस मरीज कम हैं। यह बात दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कही। उन्होंने बताया कि...