Home मुख्य समाचार राज्यसभा में कांग्रेस से दोगुनी ताकतवर हुई बीजेपी, ये रहे आंकड़े

राज्यसभा में कांग्रेस से दोगुनी ताकतवर हुई बीजेपी, ये रहे आंकड़े

[

प्रधानमंत्री मोदी के साथ गृहमंत्री शाह (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव के संपन्न होने के साथ उच्च सदन में विपक्ष के मुकाबले बीजेपी नीत एनडीए की शक्ति और बढ़ गई है तथा भगवा दल के पास राज्यसभा में अब 86 सीटें और कांग्रेस के पास महज 41 सीटें हैं. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए के सदस्यों की संख्या अब 245 सदस्यीय सदन में लगभग 100 पहुंच गई है. यदि अन्नाद्रमुक (09), बीजद (09), वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (06) जैसे दलों का समर्थन और कई संबद्ध नामांकित सदस्यों का समर्थन गिना जाता है तो मोदी सरकार के समक्ष वहां किसी गंभीर संख्यात्मक चुनौती का सामना करने की चुनौती नहीं है.

यह भी पढ़ें

चुनाव आयोग ने 61 सीटों पर द्विवार्षिक चुनाव कराने की घोषणा की थी जिनमें से 55 सीटों पर मार्च में चुनाव होना था लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इसमें देरी हुई. पहले ही 42 सदस्य निर्विरोध चुने गये थे और शुक्रवार को 19 सीटों पर हुए चुनाव में से बीजेपी ने आठ सीटों, कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस ने चार-चार सीटों और तीन अन्य ने जीत दर्ज की. मध्य प्रदेश और गुजरात में कांग्रेस के कई विधायकों के दलबदल के कारण बीजेपी ने अपनी संख्या के बल पर कुछ और सीटें जीतीं.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बीजेपी ने 17, कांग्रेस ने नौ, बीजेपी के सहयोगी जद(यू) ने तीन, बीजद और तृणमूल कांग्रेस ने चार-चार, अन्नाद्रमुक और द्रमुक ने तीन-तीन, राकांपा, राजद और टीआरएस ने दो-दो और शेष सीटें अन्य ने जीतीं. इन 61 नये सदस्यों में से 43 पहली बार चुने गये है जिनमें बीजेपी के ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल हैं. दोनों लोकसभा के सदस्य थे लेकिन 2019 के चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा और लोकसभा के पूर्व उपाध्यक्ष एम थंबीदुरई भी राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं. ऊपरी सदन में विपक्ष का संख्या बल अधिक होने के कारण पहले कार्यकाल में मोदी सरकार के विधायी एजेंडे को संसद में अक्सर अड़चनों का सामना करना पड़ता था और पहले कुछ सालों में बीजेपी की तुलना में कांग्रेस के पास अधिक संख्या थी. हालांकि बीजेपी ने विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन किया और कांग्रेस के हाथ से कई राज्य निकल गये जिससे सदन में सत्ता पक्ष के सदस्यों की संख्या में धीमी लेकिन लगातार वृद्धि हुई.

प्रधानमंत्री के बयान पर पीएमओ की सफाई

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

अजित जोगी: अध्यापक, आईपीएस, आईएएस और सीएम से लेकर बाग़ी तक

छत्तीसगढ़ राज्य के पहले मुख्यमंत्री अजित जोगी का आज रायपुर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. इसी महीने की नौ तारीख़ को गंगा...

LIVE Chandra Grahan 2020: खत्म हुआ साल का तीसरा चंद्र ग्रहण, जानें- कब लगेगा अगला ग्रहण

[ Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 11:31 AM (IST) नई दिल्ली, जेएनएन। साल का तीसरा चंद्रग्रहण कुछ ही देर में खत्म हो गया है। इस...

राजीव गांधी फाउंडेशन समेत 3 ट्रस्ट की फंडिंग की होगी जांच, गृह मंत्रालय ने बनाई कमेटी

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

अब 65 की उम्र से ऊपर के लोग और कोरोना मरीज कर सकेंगे पोस्टल बैलेट का इस्तेमाल, बिहार चुनाव में लागू होगा नया नियम

[EC Extends Postal Ballot Facility :नई दिल्ली: देश में जारी कोरोनावायरस संक्रमण (Coronavirus) के बीच चुनाव आयोग (Election Commission) ने बड़ा फैसला लिया है....

EXCLUSIVE: प्लाज्मा थेरेपी को लेकर हैं कई सवाल, डॉक्टर से सुनिए जवाब

,(a=t.createElement(n)).async=!0,a.src="https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js",(f=t.getElementsByTagName(n)).parentNode.insertBefore(a,f))}(window,document,"script"),fbq("init","465285137611514"),fbq("track","PageView"),fbq('track', 'ViewContent'); Source link