Home मुख्य समाचार बिहार से सटी सीमा पर फायरिंग के बाद नेपाल का नया दांव,...

बिहार से सटी सीमा पर फायरिंग के बाद नेपाल का नया दांव, इस पोस्ट से हटाए अपने जवान

[

भारत-नेपाल बॉर्डर (India Nepal Border) पर फायरिंग (Firing India Nepal Border) के बाद स्थिति काफी बदल गई है। जानकारी के मुताबिक नेपाल की पुलिस (Nepal Police Firing) ने घटना वाली जगह से अपने कदम कुछ पीछे खींच लिए हैं। वहीं एसएसबी के जवान बॉर्डर पर पूरी तरह से मुस्तैद हैं।

Edited By Ruchir Shukla | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

‘नेपाल पुलिस ने भारत की सीमा में घुसकर मुझे उठाया’, एक भारतीय का सनसनीखेज खुलासा
हाइलाइट्स

  • बिहार से सटे बॉर्डर पर फायरिंग की घटना के बाद नेपाल ने उठाया बड़ा कदम
  • फायरिंग की घटना के बाद नेपाल सशस्त्र पुलिस नारायणपुर पोस्ट छोड़कर हटी पीछे
  • पीछे हटने के साथ ही नेपाल पुलिस ने जवानों की संख्या में किया है इजाफा
  • एसएसबी जवान सीमा पर मुस्तैद, बॉर्डर से सटे गांवों में स्थिति सामान्य

सीतामढ़ी

बिहार से सटे भारत-नेपाल बॉर्डर (India Nepal Border) के पास पिछले दिनों हुई फायरिंग की घटना के बाद हालात बेहद गंभीर बने हुए हैं। नेपाल पुलिस की ओर से की गई अंधाधुंध फायरिंग में (Nepal Police Firing Near Bihar Border) सीतामढ़ी के एक शख्स की मौत हो गई थी, जबकि दो अन्य लोग घायल हो गए। नक्शा विवाद के बाद इस घटना के बाद दोनों देशों के रिश्तों में तनाव बढ़ता दिख रहा है। यही वजह है कि बॉर्डर पर भारतीय जवानों की गश्त बढ़ा दी गई है। यही नहीं अधिकारियों ने सशस्त्र सीमा बल के जवानों को मुस्तैद रहने के लिए कहा है। दूसरी ओर नेपाल ने फायरिंग की घटना के बाद अपने रुख में बदलाव किया है।

नेपाल ने फायरिंग के बाद पीछे खींचे अपने कदम

जानकारी के मुताबिक, नेपाल ने उस बॉर्डर पोस्ट से अपने जवानों को थोड़ा पीछे कर लिया है जहां फायरिंग की घटना हुई थी। दरअसल, फायरिंग का पूरा मामला नारायणपुर बॉर्डर और लालबन्दी बॉर्डर इलाके का है। भारतीय अधिकारियों के मुताबिक, फायरिंग की घटना नेपाल इलाके में हुई। वहीं इस घटना के बाद नेपाल सशस्त्र पुलिस नारायणपुर पोस्ट छोड़कर पीछे हट गई है। करीब 100 मीटर पीछे हटने के साथ ही नेपाल पुलिस ने जवानों की संख्या में इजाफा कर दिया है।

इसे भी पढ़ें:- बॉर्डर पर नेपाल सशस्त्र पुलिस ने की अंधाधुंध फायरिंग, एक भारतीय की मौत, दो घायल



शुक्रवार को सीतामढ़ी बॉर्डर के पार की थी फायरिंग

इस बीच भारत-नेपाल बॉर्डर के पास नेपाल सशस्त्र पुलिस की शुक्रवार सुबह की गई फायरिंग के मामले में लगातार खुलासे हो रहे हैं। इस मामले में चश्मदीद लगन किशोर को नेपाल पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था। लेकिन बाद में बढ़ते दबाव के बाद लगन को घटना के अगले ही दिन रिहा कर दिया। लगन करीब 12 घंटे से ज्यादा समय तक नेपाल पुलिस की हिरासत में रहा।

ग्रामीणों और नेपाल पुलिस के बीच झड़प में चली गोली, एक भारतीय की मौत: सीतामढ़ी के एसपीग्रामीणों और नेपाल पुलिस के बीच झड़प में चली गोली, एक भारतीय की मौत: सीतामढ़ी के एसपीभारत-नेपाल बॉर्डर पर नेपाल पुलिस की ओर से की गई फायरिंग मामले में सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने कहा है कि यह घटना झड़प के बाद हुई है। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के साथ झड़प के बाद नेपाल पुलिस ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें एक शख्स की मौत हुई है और दो लोग अस्पताल में भर्ती हैं।

एक शख्स को अपने साथ ले गई थी नेपाल पुलिस, बाद में छोड़ा

सीतामढ़ी के रहने वाले लगन किशोर ने बताया, 12 जून की सुबह 8 बजे फायरिंग की घटना के बाद नेपाल पुलिस उसे उठाकर अपने साथ संग्रामपुर ले गई थी। उसने यहां तक दावा किया कि नेपाल पुलिस ने उन्हें बिहार की सीमा में अंदर घुसकर उठाया। संग्रामपुर ले जाकर ये बुलवाने की कोशिश की कि उन्हें नेपाल सीमा से उठाया गया है। लगन के मुताबिक उनके बेटे की शादी नेपाल में हुई है। नेपाल से उनकी बहू और समधन 12 जून को परिवार के साथ सीतामढ़ी में अपने परिवार वालों से मिलने के लिए आईं थीं। लेकिन उन्हें बॉर्डर पर नेपाल पुलिस ने रोक लिया। इसी के बाद विवाद बढ़ा और फिर नेपाल सशस्त्र पुलिस ने फायरिंग कर दी।

इसे भी पढ़ें:- बिहार में नेपाल सीमा पर क्यों चली गोली, जानें



नेपाल से छूटकर आए शख्स ने बताया- क्यों नेपाल पुलिस ने की थी फायरिंग

चश्मदीद लगन के दावे को मानें तो ऐसा लगता है कि नेपाल पुलिस ने जानबूझकर और बगैर किसी वजह के फायरिंग की। एक तरफ नेपाल से भारत में रोटी-बेटी के रिश्ते की दुहाई दी जाती है। लेकिन इस घटना के बाद ऐसी दुहाइयां भी सवालों के घेरे में है। हालांकि अभी तक लगन के खुलासे पर कोई भी आधिकारिक बयान नहीं आया है। दूसरी ओर नेपाल में हुई फायरिंग को गृह मंत्रालय ने गंभीरता से लिया है। एसएसबी डीजी कुमार राजेश चंद्रा ने भी बताया था कि शुरुआती निष्कर्ष के आधार पर बनाई गई एक तथ्यात्मक रिपोर्ट गृह मंत्रालय को सौंपी गई है। उन्होंने पूरे घटनाक्रम को अचानक पैदा हुई स्थानीय परिस्थितियों से जोड़ा था।

NBT
Web Title nepal forces moves back after firing india nepal border know current situation(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बॉयकॉट चाइना: बिहार से चीन को बड़ा झटका, नीतीश सरकार ने चीनी कंपनियों से छीना मेगा प्रॉजेक्ट

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link

चीन के खतरनाक मंसूबे, बातचीत संग LAC पर बढ़ा रहा सैनिक

[भारत और चीन सेना (India-China Boarder Dispute) के बीच तनाव खत्म करने को लेकर बातचीत चल रही है। ऐसे में चीन दोहरी चाल...

Weibo Banned News : पीएम मोदी ने चीनी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म WEIBO छोड़ा

[ Publish Date:Wed, 01 Jul 2020 08:00 PM (IST) नई दिल्‍ली, एएनआइ। भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर...

Cabinet Decision: सरकार ने 50 हजार रुपए तक मुद्रा लोन लेने वालों को दी बड़ी राहत, ब्याज में मिली छूट

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

Video : भारतीय अधिकारियों की गुमशुदगी पर भारत की पाक को दो टूक, तुरंत सकुशल लौटाओ

[ Publish Date:Mon, 15 Jun 2020 06:10 PM (IST) नई दिल्‍ली/इस्‍लामाबाद। इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के दो अधिकारियों की गुमशुदगी पर भारत ने सख्‍त रुख...

EPF, उज्ज्वला, गरीब कल्याण अन्न योजना समेत चार योजनाओं पर मोदी कैबिनेट ने लगाई मुहर

;t=b.createElement(e);t.async=!0;t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e);s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,document,'script','https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js');fbq('init', '2442192816092061');fbq('track', 'PageView'); Source link