Home मुख्य समाचार दिल्ली मे कोरोना की तेज रफ्तार से केंद्र चिंतित, प्रधानमंत्री मोदी ने...

दिल्ली मे कोरोना की तेज रफ्तार से केंद्र चिंतित, प्रधानमंत्री मोदी ने अहम मीटिंग में दिए सुझाव

[

Edited By Dil Prakash | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)
हाइलाइट्स

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों के साथ की बैठक
  • देशभर में कोरोना की माहामारी की स्थिति और तैयारियों की समीक्षा की
  • बैठक में दिल्ली समेत अन्य राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की स्थिति की समीक्षा की गई
  • बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, पीएम के प्रिंसिपल सेक्रटरी, कैबिनेट सेक्रटरी, हेल्थ सेक्रटरी, आईसीएमआर के डीजी आदि शामिल हुए

नई दिल्ली

देश और खासकर राजधानी दिल्ली में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा की। बैठक की अहमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इसमें गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, प्रधानमंत्री के प्रिंसिपल सेक्रटरी, कैबिनेट सेक्रटरी, हेल्थ सेक्रटरी और आईसीएमआर के डीजी भी शामिल हुए। मीटिंग में प्रधानमंत्री को देशभर में कोरोना से निपटने के लिए किए जा रहे उपायों की जानकारी दी गई। पीएम ने यूं तो देश के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की स्थिति पर चर्चा की, लेकिन दिल्ली पर उनका खास तवज्जो रहा।

दिल्ली पर खास चर्चा

बैठक में दिल्ली में कोरोना के बिगड़ते हालात पर भी चर्चा की गई और अगले दो महीने के अनुमानों पर बात हुई। प्रधानमंत्री ने सुझाव दिया कि गृह मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को दिल्ली के उपराज्यपाल, मुख्यमंत्री, केंद्र और दिल्ली सरकार तथा एमसीडी के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात बैठक करनी चाहिए ताकि राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों से कारगर ढंग से निपटा जा सके। बैठक में कोरोना से कारगर ढंग से निपटने के लिए कई राज्यों, जिलों और शहरों द्वारा किए गए उपायों की सराहना की गई। बैठक में कहा गया कि इससे दूसरे शहरों, जिलों और राज्यों को भी प्रेरणा लेनी चाहिए।

रविवार को दिल्ली को लेकर अहम मीटिंग

ध्यान रहे कि गृह मंत्री अमित शाह राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की स्थिति पर चर्चा के लिये रविवार को दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक करेंगे।यह बैठक दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर बुलाई गई है। दिल्ली में संक्रमण के 36 हजार मामले सामने आ चुके हैं जबकि अब तक इस महामारी से राजधानी में 1200 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

प्रधानमंत्री को दी गई सारी जानकारी

बहरहाल, नीति आयोग के सदस्य और कोरोना पर एम्पावर्ड ग्रुप वन के संयोजक डॉ. विनोद पॉल ने सबको देश में कोरोना की मौजूदा स्थिति और इसे काबू करने के लिए उठाए जा रहे कदमों से अवगत कराया। प्रधानमंत्री को बताया गया कि देश में कोरोना के कुल मामलों में से दो-तिहाई पांच राज्यों में हैं। बड़े शहरों में कोरोना तेजी से फैल रहा है। इसके मद्देनजर बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि टेस्टिंग और बेड्स की संख्या बढ़ाई जाए। साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं को भी दुरुस्त किया जाए ताकि रोजाना बढ़ रहे मामलों से कारगर ढंग से निपटा जा सके।

पीएम मोदी दो दिन लगातार मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक, इन 5 मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

बेड्स और आइसोलेशन वार्ड बढ़ाने पर जोर

प्रधानमंत्री ने एंपॉवर्ड ग्रुप के सुझावों के मुताबिक शहरों और जिलों में जरूरत के मुताबिक अस्पतालों में बेड्स और आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों को राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ सलाह मशविरा करके आपात योजना बनाने को कहा। प्रधानमंत्री ने साथ ही मॉनसून के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय को उचित तैयारी करने को कहा।

मुख्यमंत्रियों से बात

देश में कोरोना के मामले 3 लाख को पार कर चुके हैं। इस मुद्दे पर मोदी 16 और 17 जून को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और उपराज्यपालों से बात करेंगे। प्रधानमंत्री 16 जून को 21 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और उपराज्यपालों से बात करेंगे। इनमें पंजाब, असम, केरल, उत्तराखंड, झारखंड, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा, हिमाचल, चंडीगढ़, गोवा, मणिपुर, नगालैंड, लद्दाख, पुडुच्चेरी, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम, अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह, दादर नगर हवेली ओर दमन दीव, सिक्किम और लक्षद्वीप शामिल हैं। 17 जून को उनकी 15 राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उप राज्यपालों से बात होगी। इनमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, बिहार, आंध्र प्रदेश, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, तेलंगाना और ओडिशा शामिल हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Delhi Violence: आरोपी सफूरा जरगर को HC से बेल, गर्भवती JMI स्टूडेंट को मानवीय आधार पर राहत

https://www.youtube.com/watch?v=2n6YT5ZN1J0https://www.youtube.com/watch?v=2n6YT5ZN1J0 कोर्ट में बेल की मांग करते हुए जरगर की वकील नित्या रामकृष्णन ने कहा था कि वह नाजुक हालत में हैं और गर्भवती...

पीजीआई में हुआ ‘कोरोना संक्रमित’ मंत्री चेतन चौहान के साथ दुर्व्यवहार, सपा नेता का दावा

[लखनऊसमाजवादी पार्टी के विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह साजन ने कोविड-19 संक्रमण के बाद हाल में दुनिया को अलविदा कह चुके उत्तर प्रदेश...

सीरम इंडिया ने 73 दिन में कोरोना वैक्‍सीन लॉन्‍च होने के दावे को बताया गलत, कहा- कंपनी खुद करेगी घोषणा

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...

मैं रोज करता हूं तो क्या इसका बुरा असर मेरी सेहत पर पड़ता है?

अगर मैं रोज सेक्स करता हूं और ज्यादा स्पर्म निकालता हूं तो क्या इसका बुरा असर मेरी सेहत पर पड़ता है? दरअसल...

जगन्‍नाथ रथ यात्रा को SC ने शर्तों के साथ दी मंजूरी, राज्य सरकार को दिया रोकने का अधिकार

; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e); s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, 'script', 'https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js'); fbq('init', '482038382136514'); fbq('track', 'PageView'); Source...